Breaking News

70 से 80 प्रतिशत महिलाएं पहनती हैं गलत साइज की ब्रा, ऐसे चुने अपनी ब्रा का साइज़ और बचे इन…

ब्रेस्‍ट कैंसर महिलाओं में बढ़ते जा रहे रोगों में से एक है। इसलिए हर महिला के लिए जरूरी है कि वह ब्रेस्‍ट कैंसर से जुड़े हर छोटे-बड़े पहलू के बारे में जानकारी रखे।

क्‍या है ब्रेस्‍ट कैंसर

loading...

शरीर के किसी अंग में होने वाली कोशिकाओं की अनियंत्रित वृद्ध‍ि कैंसर का प्रमुख कारण होती है। शरीर की आवश्यकता अनुसार यह कोशि‍काएं बंट जाती है, लेकिन जब यह लगातार वृद्धि करती हैं तो कैंसर का रूप ले लेती हैं। इसी प्रकार स्तन कोशिकाओं में होने वाली अनियंत्रित वृद्ध‍ि, स्तन कैंसर का मुख्य कारण है। कोशिकाओं में होने वाली लगातार वृद्धि एकत्र होकर गांठ का रूप ले लेती है, जिसे कैंसर ट्यूमर कहते हैं।

क्‍या हो सकते हैं कारण

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार बच्चे नहीं पैदा करना, अधि‍क उम्र में पहला बच्चा होना, स्तनपान नहीं कराना, वजन में अत्यधिक वृद्धि और अक्सर शराब का सेवन करना तथा खराब व अनियंत्रित जीवनशैली स्तन कैंसर के प्रमुख कारण हैं। इसके अलावा अनुवांशि‍क रूप से भी स्तन कैंसर की बीमारी होना संभव है। वहीं अब कुछ नए शोधों में यह भी खुलासा हुआ है कि ब्रा का गलत साइज भी ब्रेस्‍ट कैंसर का कारण बन सकता है।

क्या कहता है शोध

शोध के अनुसार, करीब 70 से 80 प्रतिशत महिलाएं गलत साइज की ब्रा पहनती हैं और कसरत के दौरान स्पोर्ट्स ब्रा भी नहीं पहनती हैं। आपको बता दें कि इससे आप गंभीर बीमारियों की चपेट में आ सकती हैं। क्योंकि गलत ब्रा पहनने से सिर्फ पीठ या गर्दन दर्द नहीं बल्कि ब्रेस्ट कैंसर, हार्टबर्न, पाचन संबंधी समस्याओं, स्किन रैशेज और सिर दर्द की समस्याएं भी हो सकती है। इसलिए आप भी गलत साइज की पहनती तो अलर्ट हो जाएं।

टाइट ब्रा है नुकसानदायक

अगर आप ज्या दा टाइट ब्रा पहनेगी तो यह आपके खून के दौरे को रोक कर ब्रेस्टर कैंसर का कारण बन सकता है। इसके अलावा इससे ब्रेस्ट का आकार बदलना, गले और ब्रेस्ट में सूजन की परेशानी भी हो सकती है।

क्‍या करें

ब्रा हमेशा किसी अच्‍छे ब्रांड की ही खरीदें। खरीदने से पहले उसे ट्राई करने में संकोच न करें। इनर वियर के मामले में ऑनलाइन शॉपिंग से परहेज ही करें तो अच्‍छा है , क्‍योंकि कई बार ब्रा का साइज तो ऑनलाइन शॉपिंग में बताया जाता है, लेकिन आप सही कप साइज नहीं चुन पातीं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!