Breaking News

बतौर गृह मंत्री अमित शाह आज करेंगे अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा की समीक्षा, जानिए ऐसे…

गृह मंत्री बनने के बाद अमित शाह बुधवार को पहली बार जम्मू और कश्मीर जाएंगे. अपने दो दिन के भ्रमण में अधिकारियों के साथअमरनाथ यात्रा के लिए सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा करेंगे.

सूत्रों के मुताबिक, शाह अमरनाथ गुफा में बाबा बर्फानीके दर्शन भी करेंगे. गृह मंत्री के भ्रमण से पहले गवर्नर सत्यपाल मलिक ने बोला था कि अलगाववादी नेता घाटी में शांति को लेकरबातचीत के लिए तैयार हैं, लेकिनडोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने इसका विरोध किया है.

loading...

कार्यकर्ताओं ने बोला है कि अमित शाह को हुर्रियत व अलगाववादी नेताओं से कोई वार्ता नहीं करनी चाहिए  सरकार  पाक परस्तसैय्यद अली शाह गिलानी व मीरवाइज उमर फारूक जैसे हुर्रियत नेताओं को कारागार में डाले. डोगरा फ्रंट के कार्यकर्ताओं ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन भी किया था.

अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तक चलेगी, 1 लाख जवान तैनात

कश्मीर में अमरनाथ यात्रा 15 अगस्त तकचलेगी. इसके लिए प्रदेश में सुरक्षा के कड़े बंदोवस्त किए गए हैं. अनंतनाग जिले के पहलगाम ट्रैक व गांदरबल जिले के बालटाल ट्रैक पर कड़ी नजर रखी जा रही है. तीर्थयात्री अमरनाथ जाने के लिए मुख्य रूप से इन्हीं दो मार्गों का प्रयोग करते हैं. यहां एक लाख से अधिक सुरक्षाकर्मी 24 घंटे तैनात हैं.

जम्मू-कश्मीर रिज़र्वेशन संशोधन बिल लोकसभा मेंपेश हुआ
दौरे से पहले शाह की ओर से केंद्रीय प्रदेश गृहमंत्री जी किशन रेड्डी ने सोमवार को लोकसभा में  जम्मू  और  कश्मीर  रिज़र्वेशन  संशोधन बिल 2019 पेश किया था. इसके जरिएआरक्षण अधिनियम 2004 में संशोधन किया जाएगा. बिल पास होने से अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पास रहने वाले लोगों को भी रिज़र्वेशन का फायदा मिल सकेगा. संशोधन के मुताबिक, कोई भी आदमी जो पिछड़े क्षेत्रों, नियंत्रण रेखा (एलओसी) व अंतर्राष्ट्रीय सीमा (आईबी) से सुरक्षा कारणों से चला गया हो उसे भी रिज़र्वेशन का लाभ मिल सकेगा.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!