Breaking News

सरकार ने इन 4 कंपनियों पर लगाया प्रतिबंधित, जानिए ये है वजह

छत्तीसगढ़ में भाजपा शासनकाल में हुए 16 सौ करोड़ के ई-टेंडरिंग घोटाले में प्रदेश सरकार ने एक बड़ी कार्रवाई की है चार कंपनियों को पांच वर्ष के लिए प्रतिबंधित कर दिया गया है

इन पर प्रदेश में बीज सप्लाई का टेंडर हासिल करने के घोटाले में संलिप्तता की पुष्टि होने के बाद यह कार्रवाई की गई है ये कंपनियां अगले 5 वर्ष तक प्रदेश में टेंडर नहीं भर पाएंगीसाथ ही इन पर नजर रखने के लिए निगरानी टीम का गठन भी किया गया है, ताकि किसी दूसरे नाम से टेंडर हासिल न कर सके ये गड़बड़ी प्रदेश बीज निगम में औनलाइन टेंडरिंग में महालेखाकार की आपत्तियों के बाद पकड़ी गई है

loading...

ऑडिट में फर्जीवाड़े का खुलासा

महालेखाकार ने बीज निगम के साल 2012-13 से साल 2016-17 का ऑडिट ऑब्जर्वेशन किया था इसमें खुलासा हुआ कि कई बोलीदारों ने भिन्न-भिन्न कंपनी दिखाकर टेंडर हासिल कर लिए गया है, मसलन, मेसर्स बीजो शीतल सीड्स प्राइवेट लिमिटेड  मेसर्स कलश सीड्स प्राइवेट लिमिटेड के कार्यालय का पता  फोन नंबर एक समान पाए गए है इसी तरह डीलक्स रिसाइकिलिंग प्राइवेट लिमिटेड  आशापुरा रिसाइकिलिंग सिस्टम मुंबई के फोन नंबर, एड्रैस  बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स एक ही पाए गए है जानकारी के मुताबिक ऑडिट ऑब्जर्वेशन में की गई असहमति के बाद मेसर्स बीजो शीतल सीड्स प्राइवेट लिमिटेड  मेसर्स कलश सीड्स प्राइवेट लिमिटेड दोनों संस्थाओं के आरसीओ में औनलाइन अपलोड किए गए दस्तावेजों का फिर से परीक्षण कराया गया दस्तावेजों ने दोनों संस्थाओं का पता एक ही पाया गया है इस सिलसिले में दोनों संस्थाओं को नोटिस जारी किया गया है ये भी बताया गया है कि दोनों ही संस्थाओं की तरफ से एक ही तरह का जवाब पेश किए गए है

दोनों संस्थाएं एक ही स्थान की बताई गई

जानकारी के मुताबिक दोनों कंपनियों का ऑफिस एक ही बिल्डिंग में है लेकिन फोन नंबर  फैक्स के एक समान होने के विषय में कोई ठोस जवाब पेश नहीं कर सके, जिससे ये साफ हो सके कि दोनों संस्थाएं भिन्न-भिन्न है उल्लेखनीय है कि दोनों कंपनियों का ऑफिस एक ही स्थान पाया गया है बताया जा रहा है कि कंपनी के संचालक मंडल में समीर सुरेश अग्रवाल का नाम संचालक के रूप में अंकित पाया गया, इससे यह साफ होता है कि दोनों ही संस्थाओं द्वारा मिलकर निविदा भरा गया है दोनों संस्थाएं जालना (महाराष्ट्र) की बताई जा रही है

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!