Breaking News

जानिए अमिताभ बच्चन ने फिल्म शराबी में इस हादसे की वजह से छुपाया था अपना हाथ

अमिताभ बच्चन की सुपरहिट फिल्म शराबी की रिलीज को 35 वर्ष हो गए हैं. 18 मई 1984 को सिनेमाघरों में आई इस फिल्म को प्रकाश मेहरा ने डायरेक्ट किया था.

फिल्म अमिताभ की करियर की बेस्ट फिल्मों में शामिल है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसकी शूटिंग के बीच बिग बी के साथ एक एक्सीडेंट हुआ था  उन्हें सारे टाइम अपना बायां हाथ जेब में रखना पड़ा था. खुद बिग बी ने इस हादसे के बारे में अपने ब्लॉग में लिखा था.

loading...

हाथ पर गिर गया था दीपावली बम

– बिग बी ने लिखा था, “शराबी की मेकिंग के दौरान दीपावली बम मेरे हाथ पर गिर गया था. तारीखें तय हो चुकी थीं  शूट कैंसिल नहीं किया जा सकता था. इसलिए मैंने परेशान होने या देरी करने की बजाय आगे बढ़ने का निर्णय लिया. हाथ पूरी तरह गल चुका था.” अमिताभ की मानें तो उन्होंने जले हुए हाथ के साथ ही पूरी फिल्म की शूटिंग की. यह उनकी विवशता थी कि वो फिल्म में सारे समय अपना बायां हाथ जेब में रखे दिखे. लेकिन यह उस समय लोगों के बीच फैशन बन चुका था.

    1. – अमिताभ ने ब्लॉग में यह भी बताया था कि फिल्म का आइडिया 1983 में तब आया था, जब वे वर्ल्ड टूर पर निकले थे. अपने तरह के बॉलीवुड के इस पहले टूर के तहत बिग बी  उनकी टीम ने यूएस  लंदन के करीब 10 शहरों में परफॉर्म किया था. जब वो न्यूयॉर्क से ट्रिनीडाड  टोबागो जा रहे थे, तब डायरेक्टर प्रकाश मेहरा ने उनके सामने पिता-पुत्र के संबंध पर आधारित फिल्म का आइडिया रखा, जिसमें बेटा शराबी होता है. बिग बी ने लिखा था, “यानी कि फिल्म का बीज अटलांटिक महासागर के ऊपर हवा में करीब 35 हजार फीट की ऊंचाई पर रखा गया था.
    2. – असल जिंदगी में कभी शराब को हाथ न लगाने वाले अमिताभ को फिल्म में शराबी का परफेक्ट भूमिका निभाना था. इसलिए उन्होंने प्रकाश मेहरा को फिल्म के डायलॉग्स छोटे लिखने की सलाह दी थी. क्योंकि नशे की हालत में डायलॉग बोलने में समय लगता है. बिग बी के मुताबिक, “पहले दिन के शूट के बाद बड़ा ऑब्जर्वेशन किया गया. मैंने प्रकाशजी को बोला कि चूंकि फिल्म में ज्यादातर समय मुझे नशे में रहना है तो अगर डायलॉग लंबे हुए तो मुझे बोलने में समय लगेगा  फिल्म 5 घंटे की हो जाएगी. मेरे पॉइंट्स नोट करने के बाद सिचुएशन के हिसाब से सीन कुछ छोटे किए गए.
    3. – बिग बी के मुताबिक, उन दिनों दिमाग में कई सुझाव आकस्मित आते थे. आज भी आते हैं. लेकिन तब आखिरी वक्त में आते थे  उनकी कोई तैयारी नहीं होती थी. बकौल अमिताभ, “जैसे कि वह फाइट सीन जहां बार में एक शख्स मेरी घड़ी, चैन  बाकी सामान चुरा लेता है. उसे मैंने कोरियोग्राफ किया था. मजेदार वक्त था वह.” शराबी में प्राण ने अमिताभ के पिता की किरदार निभाई थी. जया प्रदा, ओम प्रकाश  मुकरी का भी फिल्म में अहम भूमिका था. फिल्म का डायलॉग ‘मूंछें हों तो नत्थूलाल जैसी’ बहुत ज्यादापॉपुलर हुआ था.

 

 

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!