Breaking News

पूर्वी थाईलैंड के एक कुत्ते की वजह से बची नवजात की जान, जानिए क्या है पूरा मामला

एक कुत्ते की वजह से एक नवजात की जान बच गई. डेली मेल की खबर के मुताबिक, किसी ने नवजात को जिंदा दफन कर दिया था.घटना थाईलैंड की है. उत्तर पूर्वी थाईलैंड के कोरट में 15 मई को पिंग पोंग नाम के कुत्ते को खेत की मिट्टी को खुरचते हुए देखा गया. पिंग पोंग के मालिक उसा निसिका, कुत्ते को ऐसा करते देख उसके पास पहुंचे.

उन्हें मिट्टी में नवजात का पैर दिखाई दिया. उन्होंने मिट्टी हटाई और बच्चे को बाहर निकाल कर अस्पताल पहुंचाया.

loading...

अस्पताल में इलाज के दौरान पता चला कि बच्चे को कोई गंभीर चोट नहीं आई है. बच्चा स्वस्थ है. हालांकि पुलिस ने उसकी 15 साल की मां को हत्या की कोशिश के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है.

हीरो बन गया कुत्ता-

कुत्ते के मालिक ने बताया कि पिंग पोंग का एक पैर काम नहीं करता. जब वह छोटा था तो कार से टकरा गया था. उन्होंने बताया कि बचपन से ही पिंग पोंग उनके पास है. वह हमेशा से वफादार और आज्ञाकारी रहा है.

जब वह छोटा था तो एक कार ने टक्कर मार दी थी. उसके बाद से उसका पिछला पैर काम नहीं करता. लेकिन जब मैं गायों को चराता हूं, तो वह मेरी मदद करता है. पिंग पोंग ने जो किया है उससे गांव का हर व्यक्ति चकित है. वह हीरो है, क्योंकि उसने बच्चे की जान बचाई है.

बच्चे की मां तक ऐसे पहुंची पुलिस-

पुलिस ने मामले की जांच शुरू की. स्थानीय लोगों से पूछताछ की. इनमें से कोई भी किसी गर्भवती महिला को नहीं जानता था. लेकिन एक दुकानदार ने बताया कि एक किशोरी ने हाल ही में बड़ी मात्रा में सैनिटरी टॉवेल खरीदा था.

पुलिस ने 16 मई को किशोरी को गिरफ्तार कर लिया जिसने बच्चे को जन्म दिया था. किशोरी ने पुलिस को बताया कि उसने नवजात को इसलिए दफना दिया, क्योंकि वह बच्चे के जन्म को छिपाना चाहती थी. उसे डर था कि उसके माता-पिता को जब पता चलेगा तो वे गुस्सा करेंगे.

किशोरी के माता-पिता करेंगे बच्चे की देखभाल-

पुलिस अधिकारियों ने बच्चे को अस्पताल की निगरानी में रखा है. लड़की के माता-पिता ने शिशु की देखभाल की पेशकश की है.

अधिकारियों ने बताया कि बच्चा ठीक हो रहा है. जन्म के समय उसका वजन 2.4 किलो था. किशोरी मां के माता-पिता ने अस्पताल छोड़ने पर बच्चे की देखभाल की पेशकश की है, लेकिन इस पर अभी सहमति नहीं बनी है. पुलिस और सरकारी कल्याण कर्मचारियों की एक टीम बच्चे की सुरक्षा पर विचार रही है.

हालांकि पुलिस ने हत्या की कोशिश के संदेह में किशोरी की मां से पूछताछ की है, लेकिन वे किशोरी की मानसिक स्वास्थ्य का पता लगा रहे हैं. गवर्नर विचियन ने कहा कि पुलिस अधिकारी मां पर मुकदमा चलाने की तैयारी कर रहे हैं, लेकिन वह भी एक बच्ची है. यह महत्वपूर्ण है कि उसका ख्याल रखा जाए और उचित व्यवहार किया जाए.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!