Breaking News

घंटे से अधिक टीवी या मोबाइल देखना बच्चों के लिए है इतना खतरनाक

 दुनिया स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने बच्चों की स्वास्थ्य लेकर चेतावनी जारी की है. WHO के मुताबिक, 5 वर्ष से कम आयु के बच्चों के शारीरिक विकास के लिए गैजेट स्क्रीन से दूरी बनाना महत्वपूर्ण है. ज्यादा से ज्यादा खेलों में समय बिताने के साथ पर्याप्त नींद लेने की आवश्यकता है. रिपोर्ट के मुताबिक, उनका एक घंटे से अधिक टीवी या मोबाइल देखना खतरनाक है.

  1. WHO की नयी गाइडलाइन में शारीरिक गतिविधि पर जोर दिया गया है. रिपोर्ट में मोबाइल या टीवी स्क्रीन देखने के कारण बच्चों में एक ही स्थान पर घंटों बैठे रहने की आदत को कम करने की बात कही गई है. विशेषज्ञों के पैनल का बोलना है कि दूसरी बड़ी बात है नींद  उनका खेलों से लगाव बढ़ाना.
  2. विश्व स्वास्थ्य संगठन के डायरेक्टर-जनरल डॉ टेड्रोस अधानोम घेब्रेयेसस का बोलना है कि स्वास्थ्य वर्धक रहने के लिए महत्वपूर्ण है कि आरंभ से ही शरीर  बच्चों की आदतों पर ध्यान दिया जाए. शरीर का तेजी से विकास बचपन में ही होता है. यही वो समय है जब परिवारों की जीवनशैली का उन पर प्रभाव पड़ना प्रारम्भ होता है.
  3. रिपोर्ट के मुताबिक, शारीरिक गतिविधि कम होने के कारण हर वर्ष दुनियाभर में सभी आयु वर्ग के 50 लाख लोगों की मृत्यु हो जाती है. वर्तमान में 23 प्रतिशत बालिग  80 प्रतिशत किशोर शारीरिक रूप से सक्रिय नहीं हैं. शरीर को सक्रिय रखने  नींद पूरी लेने की आदत को कम आयु से ही ज़िंदगी का भाग बनाना चाहिए.
  4. विश्व स्वास्थ्य संगठन के डॉ जुआना विलियमसेन का बोलना है कि हम बच्चों को वापस मैदान में खेलने के लिए लाना चाहते हैं ताकि उनमें मोटापे के मुद्दे घटें  शारीरिक रूप से सक्रिय रहें. दुनिया स्वास्थ्य संगठन की कार्यक्रम मैनेजर डॉ फिओना बुल का बोलना है कि ऐसी आदतें बच्चों को शारीरिक  मानसिक स्तर पर सेहतंद रखेंगी.
    • WHO के मुताबिक, इस आयु के बच्चे को कई तरह सक्रिय रखें. जमीन पर ही अधिक से अधिक खेलने का मौका दें. मोबाइल बिल्कुल न दें. जब वह जाग रहा हो तो उसे पेट के बल भी खेलने दें.
    • उसे एक घंटे से अधिक गोद, चेयर, प्रेम्स में न रखें. 3 महीने की आयु में 14-17 घंटे  4-11 महीने की आयु में 12-16 घंटे की नींद लेने दें.
    • दिनभर में 180 मिनट उसे भिन्न-भिन्न तरी की शरीरिक गतिविधियों में बिताने के लिए प्रेरित करें. एक घंटे से ज्यादा उसे गोद, चेयर, प्रेम्स में न रखें. मोबाइल या टीवी स्क्रीन दूर रहे तो बेहतर है.
    • दो वर्ष के बच्चे को एक घंटे से अधिक टीवी या मोबाइल स्क्रीन पर न बिताने दें. 11-14 घंटे की नींद महत्वपूर्ण है.
    • उन्हें कहानियां सुनाएं या कुछ पढ़ने को कहें.
  5. दिनभर में कम से कम 180 मिनट फिजिकल एक्टिविटी में बिताने को कहें. इसमें से 60 मिनट लगातार शारीरिक गतिविधि में लगाना चाहिए. एक घंटे से ज्यादा उसे प्रेम्स या स्ट्रोलर में न बिताने दें. मोबाइल या टीवी में एक घंटे से अधिक समय न बिताने दें. कम से कम 10 घंटे की नींद लेने दें.
Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!