Breaking News

बड़ीखबर : मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न मामले में हुई ये कोशिस

सुप्रीम कोर्ट ने भारत के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई के खिलाफ यौन उत्पीड़न के मामले में दिल्ली पुलिस कमिश्नर, सीबीआई डायरेक्टर और आईबी चीफ को समन किया है. जस्टिस अरुण मिश्रा की अगुवाई वाली बेंच ने इन सभी को वकील उत्सव बैंस की तरफ से लगाए गए आरोपों पर चर्चा के लिए बुधवार दोपहर 12:30 बजे जजों के चेंबर्स में बुलाया.

इससे पहले तीन जजों की बेंच ने उत्सव बैंस को नोटिस जारी कर इस मामले पर उनके आरोपों को लेकर प्रतिक्रिया मांगी थी. बता दें कि बैंस ने सीजेआई के खिलाफ साजिश का आरोप लगाया था. उन्होंने कहा था कि उन्हें सुप्रीम कोर्ट की पूर्व कर्मचारी को रिप्रजेंट करने और प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में सीजेआई के खिलाफ दबाव बनाने के लिए 1.5 करोड़ रुपये का ऑफर मिला था.

loading...

शिकायत करने वाली महिला को जारी किया गया नोटिस

जस्टिस बोबडे ने बताया कि उन्होंने उस महिला को नोटिस जारी कर दिया है, जिसने सीजेआई के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोप लगाते हुए जजों को पत्र लिखे थे.

बैंस को पुलिस सुरक्षा मिलनी जारी रहेगी

जस्टिस अरुण मिश्रा ने कहा है कि उत्सव बैंस को पुलिस सुरक्षा मिलनी जारी रहनी चाहिए.

सीजेआई के खिलाफ लगे हैं ये आरोप

सुप्रीम कोर्ट की एक महिला कर्मचारी ने सीजेआई के खिलाफ 19 अप्रैल को लगाए आरोपों में कहा था कि सीजेआई ने पहले उनका सेक्सुअल हैरेसमेंट किया, फिर उन्हें नौकरी से बर्खास्त करवा दिया.

शाम 3 बजे फिर से शुरू होगी SC की कार्यवाही

सुप्रीम कोर्ट की कार्यवाही बुधवार शाम 3 बजे फिर से शुरू होगी. कोर्ट ने कहा, ”कुछ बहुत ही गंभीर और परेशान करने वाला है, जिसका संबंध न्यायपालिका की स्वतंत्रता से है.”

CJI के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच करेंगे जस्टिस बोबडे

भारत के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) रंजन गोगोई के खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों की आंतरिक जांच की जिम्मेदारी जस्टिस एसए बोबडे को सौंपी गई है. जस्टिस बोबडे ने बताया कि उन्होंने इस मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट के दो जजों- जस्टिस एनवी रमन और जस्टिस इंदिरा बनर्जी को शामिल कर एक समिति गठित की है.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!