Breaking News

विंग कमांडर को फिर मिला फाइटर जेट उड़ाने का मौका

विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के पास जल्‍द ही फिर से मिग-21 जैसा फाइटर जेट उड़ाने का मौका है। 27 फरवरी को जम्‍मू कश्‍मीर में हुई डॉगफाइट में अभिनंदन वर्तमान ने पाकिस्‍तान एयरफोर्स (पीएएफ) का एफ-16 गिराया था। इस लड़ाई में हालांकि उनका जेट मिग-21 भी क्रैश हो गया था और अभिनंदन पाकिस्‍तान के हिस्‍से वाले कश्‍मीर में जा गिरे थे। इसके बाद पाक की सेना ने उन्‍हें बंदी बना लिया था। करीब तीन दिन तक पाक के कब्‍जे में रहने के बाद अभिनंदन एक मार्च को देश वापस लौटे थे। इंडियन एयरफोर्स (आईएएफ) के सूत्रों के हवाले से इंग्लिश डेली हिन्‍दुस्‍तान टाइम्‍स ने इस बात की जानकारी दी है।

इस समय बेंगलुरु में हैं अभिनंदन
आईएएफ सूत्रों की ओर से बताया गया है कि अभिनंदन इस समय बेंगलुरु स्थित इंस्‍टीट्यूट ऑफ एरोस्‍पेस मेडियन (आईएएम) में हैं। यहां पर 35 वर्षीय विंग कमांडर को अलगे कुछ हफ्तों में जरूरी टेस्‍ट्स से गुजरना होगा। इसके बाद इस बात के काफी अच्‍छे आसार है कि वह फिर से फाइटर जेट उड़ा सकेंगे। वर्तमान दुनिया के पहले पायलट हैं जिन्‍होंने मिग से एफ-16 को ढेर किया था। दुनिया भर के विशेषज्ञ भी अभिनंदन के इस कारनामे से हैरान रह गए थे।

loading...

पिछले दिनों आए टेस्‍ट्स के लिए दिल्‍ली
अभिनंदन पिछले हफ्ते दिल्‍ली में थे और यहां पर एयरफोर्स सेंट्रल मेडिकल कॉलेज इस्‍टैब्लिशमेंट, में उनका मेडिकल रिव्‍यू हुआ। पाकिस्‍तान से लौटने के बाद वह इसी हस्पिटल में इलाज के लिए भर्ती हुए थे। पाक सेना ने अभिनंदन को करीब 60 घंटों के लिए कब्‍जे में रखा था। मेडिकल इस्‍टैब्लिशमेंट वह जगह है जहां पर थल सेना, वायुसेना और नौसेना की एविएशन विंग के पायलट्स को फ्लाइंग फिटनेस टेस्‍ट के लिए आना होता है। इसके अलावा सेना के रिसर्च एंड रेफरल हॉस्पिटल के डॉक्‍टरों ने भी उनका चेक-अप किया था। डॉक्‍टरों को उनकी रीढ़ की हड्डी और पसलियों में चोट का पता लगा था।

लगातार स्‍वास्‍थ्‍य में हो रहा है सुधार
सूत्रों की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक अभिनंदन जैसे केस में जहां इजेक्‍शन मुश्किल हालातों में हुआ हो, पायलट की हेल्‍थ को 12 हफ्तों तक निगरानी में रखा जाता है। इसके बाद ही उन्‍हें फ्लाइंग का क्‍लीयरेंस मिलता है। मई के अंत तक इस बात का पता लग पाएगा कि अभिनंदन मिग-21 जैसा फाइटर जेट उड़ा पाएंगे या नहीं। लेकिन जिस तरह से उनकी हेल्‍थ बेहतर हो रही है, उससे इस बात की संभावनाएं बढ़ गई हैं कि वह जल्‍द ही फिर से फाइटर जेट के कॉकपिट में होंगे। अभिनंदन फिलहाल श्रीनगर स्थित अपनी यूनिट में हैं जो कि एयरफोर्स की 51वीं स्‍क्‍वाड्रन है जिसे ‘स्‍वॉर्ड आर्म्‍स’ नाम से जानते हैं।

मिल सकता है सर्वोच्‍च पुरस्‍कार
मिग-21 जो 60 के दशक का फाइटर जेट है, उसने एडवांस जेट एफ-16 को गिराया और इसके साथ ही अभिनंदन को युद्ध में दिए जाने वाले तीसरे सर्वोच्‍च पुरस्‍कार वीर चक्र से सम्‍मानित किए जाने की बातें भी होने लगी हैं। सूत्रों की मानें तो अभिनंदन का नाम वीर चक्र के लिए प्रस्‍तावित किया जा सकता है। 26 फरवरी को आईएएफ के 12 मिराज-2000 जेट्स ने पाकिस्‍तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्‍मद के अड्डों को निशाना बनाया था। बालाकोट हवाई हमला पाकिस्‍तान को पुलवामा आतंकी हमले का जवाब था जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

आईएएफ ने दिया पाक को जवाब
सूत्रों के मुताबिक 27 फरवरी को जिस तरह से घटनाक्रम हुए उसके बाद अभिनंदन को युद्ध के समय दिए जाने वाले सम्‍मान की संभावना काफी बढ़ गई है। अधिकारियों की मानें तो अभिनंदन को वीर चक्र या फर शौर्य चक्र से नवाज जा सकता है। पाकिस्‍तान अभी तक इस बात से इनकार करता आ रहा है कि उसका कोई एफ-16, 27 फरवरी को ढेर हुआ है। लेकिन आठ अप्रैल को आईएएफ की ओर से पाक को जवाब देने के लिए रडार इमेज रिलीज की गई थीं। इसमें साफ नजर आ रहा था कि अभिनंदन के मिग-21 को पाक के चार एफ-16 ने घेरा हुआ था।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!