Breaking News

आंधी-तूफान ने मचाया उत्पात, किसान की फसलों का हुआ ये हाल

गुरुवार को देश के कई राज्यों में आंधी-तूफान ने काफी उत्पात मचाया है, जिसकी वजह से तापमान में तो गिरावट दर्ज की गई लेकिन आंधी-तूफान के कारण लोगों का दैनिक जीवन काफी प्रभावित हुआ, सबसे ज्यादा असर दक्षिण भारत में दिखा, जहां कर्नाटक और तमिलनाडु के कुछ जिलों में भारी बारिश हुई है, कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में कल शाम से लेकर देर रात तक लगातार बारिश होती रही और तेज हवाएं चलती रहीं, जिसकी वजह से लोगों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ा, कर्नाटक के कुछ जगहों पर बारिश की वजह से घंटों बिजली गुल रही तो कहीं सड़क पर जाम लगने से लोगों को आवाजाही में परेशानी हुई, यही नहीं बे-मौसम बरसात ने किसानों को भी मुश्किल में डाल दिया है क्योंकि ये बारिश पकी फसलों के लिए ठीक नहीं है।

मौसम विभाग
दक्षिण भारत में जमकर हुई बारिश
मौसम विभाग ने पहले ही यहां पर बारिश की आशंका जताई थी, बारिश का असर दिल्ली-एनसीआर, उत्तर प्रदेश , बिहार, उत्तराखंड और हिमाचल में भी देखा गया है, इन प्रांतों के भी कुछ जिलों में कल जमकर बारिश हुई है, विभाग के मुताबिक बारिश का सिलसिला आज भी कायम रहेगा।

loading...

इन स्थानों में जमकर हुई है बारिश

तो वहीं स्काईमेट के मुताबिक बीते 24 घंटों में हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, पूर्वोत्तर राजस्थान, उत्तर प्रदेश, पूर्वी बिहार, उत्तरी छत्तीसगढ़, केरल और दक्षिण भारत के अधिकांश इलाकों में गरज के साथ बारिश देखने को मिली है।

भारी बारिश से तापमान में गिरावट

जम्मू कश्मीर, असम, पश्चिम बंगाल, बिहार, झारखंड, ओडिशा के कुछ स्थानों और तेलंगाना और तमिलनाडु में एक-दो स्थानों पर बारिश दर्ज की गयी। भारत के उत्तर, उत्तर-पश्चिमी और मध्य भागों में ज्यादातर जगहों पर तापमान सामान्य से नीचे दर्ज किया गया है।

तेज हवाओं के साथ आंधी-बारिश आ सकती है
60-70 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं की आशंका

हालांकि विभाग ने आज भी उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, बिहार और पश्चिम बंगाल में कहीं-कहीं 60-70 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से चलने वाली हवाओं की आशंका जताई है और लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है।

आज भी मौसम के बिगड़ने की पूरी संभावना

विभाग ने कहा है कि पहाड़ी इलाकों में आज भी मौसम के बिगड़ने की पूरी संभावना है, आज हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, झारखंड, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, ओड़िशा, असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, तटीय कर्नाटक, तमिलनाडु एवं केरल में 40-50 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली तेज हवाओं के साथ आंधी-बारिश आ सकती है।

अलनीनो का प्रभाव मॉनसून पर नहीं
मॉनसून सामान्य के करीब रहेगा

मौसम विभाग ने यह भी कहा है कि इस साल मॉनसून सामान्य के करीब रहेगा। मौसम विभाग ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि इस साल सामान्य के 96 फीसदी बारिश होगी।

अलनीनो का प्रभाव मॉनसून पर नहीं

IMD (मौसम विभाग) ने अलनीनो को लेकर दुनिया भर की एजेंसियों की आशंकाओं को खारिज कर दिया है, उसने कहा है कि मॉनसून सीजन में देश में लंबी अवधि के औसत की 96 फीसदी बारिश संभव है। इसके पहले आशंका थी कि अलनीनो की वजह से मॉनसून पर असर पड़ सकता है। मौसम विभाग मॉनसून का अगला अपडेट जून के पहले हफ्ते में देगा।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!