Breaking News

चलती ट्रेन में बदमाशों ने दिया इस वारदात को अंजाम, 10 सैकण्ड में लूट ले गए 2 करोड़

वैष्णो देवी कटरा-बांद्रा एक्सप्रेस में हुई लूट की वारदात को अजमेर जीआरपी की स्पेशल टीम की सहायता से 48 घंटे में खोल दिया गया है। खास बात यह है कि लूटी गई 1 करोड़ 70 लाख की नगदी में से 1 करोड़ 69 लाख रुपए के साथ तीन आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है।

मुम्बई के व्यापारी को लूटा
जीआरपी डिप्टी हुमायूं कबीर खान ने बताया कि मुम्बई निवासी गौतम कुमार ने जीरो नम्बरी एफआईआर दर्ज करवाई, जिसमें बताया कि वह वैष्णो देवी कटरा-बांद्रा एक्सप्रेस में यात्रा कर रहा था। कोटा स्टेशन से ट्रेन रवाना होते ही एक बदमाश बैग लेकर कूद गया। बैग में 1 करोड़ 70 लाख रुपए की नगदी थी। गौतम कुमार ईलेक्ट्रॉनिक्स आईटम का सप्लायर्स है और यह रकम वह अन्य व्यापारियों से लेकर जा रहा था। खान ने बताया कि रिपोर्ट मिलते ही रेलवे एडीजी नीना सिंह, एसपी पूजा अवाना ने सभी टीमों को तुरंत बदमाशों का पता लगाकर नगदी जप्त करने के निर्देश दिए।

loading...

अन्य बदमाशों की भी कर रहे तलाश

बदमाशों के कब्जे से लूटी गई रकम में से 1 करोड़ 69 लाख रुपए की राशि भी जब्त कर ली गई है। सभी बदमाशों से फरार हुए बदमाशों के संबंध में पूछताछ की जा रही है। फरार हुए बदमाशों में बाड़मेर के बालोतरा निवासी मोहन सिंह, दिल्ली निवासी झबर सिंह व उसके साथी है। उक्त गिरोह से ओर भी वारदातें खुल सकती है। आपको बता दें कि दो दिन पहले भी अजमेर जीआरपी की टीम ने 2 करोड़ से अधिक की कीमत के लूटे गए जेवरात बरामद करके बदमाशों को भी दबोच लिया था, हालांकि मुख्य आरोपी भागने में कामयाब हो गया था।

बाड़मेर-जालौर के रहने वाले हैं आरोपी

इसके तहत अजमेर जीआरपी के स्पेशल टीम प्रभारी मनोज चौहान ने अत्याधुनिक साधनों को काम में लेते हुए बदमाशों का पता लगाया और उन्हें दबोचने में अह्म योगदान दिया। खान की मानें तो बाड़मेर निवासी मोहन सिंह राजपुरोहित, जालौर निवासी उत्तम राणा और बाड़मेर के सिवाना निवासी गणपत सिंह उर्फ जगत सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। सभी बदमाश सूरत में रहते हैं और इस वारदात को अंजाम देने के लिए पिछले दस दिन से योजना बना रहे थे। ट्रेन में महज दिन ​सैकण्ड में वारदात को अंजाम दे दिया।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!