Breaking News

ताइवान में 6.1 की तीव्रता से आया भूकंप, हिल गई ताइपे की ऊंची बिल्डिंग

पूर्वी ताइवान में गुरुवार को 6.1 की तीव्रता वाले भूकंप के झटकों ने लोगों को सहमने पर मजबूर कर दिया। राजधानी ताइपे में तो कई ऊंची बिल्डिंग तक हिल गईं। प्रत्‍यक्षदर्शियों के मुताबिक भूकंप के झटके इतने तेज थे कि बिल्डिंग्‍स काफी देर तक हिलती रहीं। भूकंप का केंद्र ताइवान के शहर हुआलिएन में था। भूकंप के झटकों की वजह से सबवे सर्विसेज को कुछ देर के लिए बंद करना पड़ गया। साथ ही ताइपे में कई स्‍कूलों को भी खाली करा लिया गया था। इस भूकंप में किसी के मारे जाने या फिर किसी के घायल होने की कोई जानकारी फिलहाल नहीं है।

इस वर्ष का सबसे बड़ा भूकंप

loading...

ताइवान के सेंट्रल वेदर ब्‍यूरो (सीडब्‍लूबी) के अधिकारियों ने कहा है कि इस वर्ष ताइवान में आया यह सबसे बड़ा भूकंप था। एक प्रत्‍यक्षदर्शी ने बताया कि एक बड़ा झटका आया जिसे हमने करीब 30 सेकेंड्स तक महसूस किया। सोशल मीडिया पर एक यूजर ने लिखा कि वह एक पार्क में एक्‍सरसाइज कर रहे थे और अचानक ही गिर पड़े। इस यूजर का कहना है कि उन्‍हें पार्क में कभी भी ऐसा महसूस नहीं हुआ जो उन्‍होंने गुरुवार को भूकंप के झटकों से महसूस किया। एक और व्‍यक्ति ने बताया कि उन्‍हें लगता है पिछले 10 वर्षों में ताइपे में ऐसा भूकंप पहली बार आया है। ताइपे के शिनवाई में तो एक सड़क पर भूकंप के झटकों की वजह से क्रैक आ गया है। शिनवाई, ताइपे की वित्‍तीय राजधानी मानी जाती है।

भूकंप के बाद आए झटकों से सहमे लोग

सीडब्‍लूबी के मुताबिक भूकंप के बाद 4.1 की तीव्रता वाला एक और झटका महसूस किया गया। लोकल मीडिया ने उस फुटेज को टीवी पर दिखाया है जो एक बिल्डिंग की है और भूकंप में पूरी तरह से तबाह हो गई। ताइपे में रहने वाले एक व्‍यक्ति ने बताया कि उनके फोन पर भूकंप के आते ही नेशनल अलर्ट्स ऑफ हो गए थे। भूकंप के झटके ताइपे से 386 किलोमीटर दूर पिंगटुंग काउंटी में भी महसूस किए गए थे। वहीं रिक्‍टर स्‍केल पर पांच की तीव्रता वाला भूकंप नानटोउ काउंटी, वाइलान काउंटी, ताइचुंग सिटी और न्‍यू ताइपे सिटी में भी महसूस किए गए थे। सेंट्रल ताइवान में सितंबर 1999 में सबसे बड़ा भूकंप आया था जिसमें 2,297 लोगों की मौत हो गई थी और करीब 9,000 लोग घायल हो गए थे। उस भूकंप की तीव्रता 7.6 थी।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!