Breaking News

पाक के लड़ाकू विमान एफ-16 को मार गिराने के कोई भी ‘सबूत देने में नाकाम रहा भारत’

इंडियन वायुसेना ने 27 फरवरी को हुई हवाई लड़ाई में एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने के गया है। पाक ने हमेशा की तरह झूठा बयान जारी कर हिंदुस्तान के दावे को खारिज किया है। के नौशेरा में हवाई प्रयत्न में पाक के लड़ाकू विमान एफ-16 को मार गिराने के कोई भी सबूत पेश करने में विफल रहा है।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट किया, ‘बार-बार दोहराने से झूठ हकीकत में बदल नहीं जाता। एफ 16 को मार गिराने के सबूत होने का दावा करने के बावजूद इंडियन वायु सेना इसे पेश करने में नाकाम रही है। ’

loading...

भारत ने जारी की तस्वीरें
इंडियन वायुसेना के एअर वाइस मार्शल आर। जी। के। कपूर ने एक मीडिया ब्रीफिंग में इंडियन वायुसेना की ओर से पाकिस्तानी वायुसेना के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराने से संबंधित रडार फोटोज़ दिखाईं।

उन्होंने बोला कि इंडियन वायुसेना के पास बहुत ज्यादा विश्वसनीय सूचना व साक्ष्य हैं जो स्पष्ट इशारा देते हैं कि 27 फरवरी की हवाई कार्रवाई के दौरान पाकिस्तानी वायुसेना ने अपना एक एफ-16 विमान खो दिया।

पाक नहीं पहुंचा पाया नुकसान
आरजीके कपूर ने बोला कि इसमें कोई शक नहीं है कि 27 फरवरी को दो लड़ाकू विमान गिराए गए थे। इनमें से एक इंडियन वायुसेना का मिग-21 लड़ाकू विमान था, जबकि दूसरा पाक का एफ-16 विमान था। पाक के एफ-16 विमान की पहचान उसके इलेक्ट्रॉनिक सिग्नेचर व रेडियो ट्रॉन्सक्रिप्टस से की गई थी। उन्होंने बोला कि सुरक्षा व गोपनीयता को ध्यान में रखते हुए हमने यह सूचना सार्वजनिक नहीं की थी।

उन्होंने बोला कि इंडियन वायुसेना के पास पाक के एफ-16 विमान मार गिराए जाने के कई विश्वसनीय सबूत हैं। उन्होंने बोला कि पाक के विमान किसी भी प्रकार का नुकसान नहीं कर पाए थे। पाकिस्तानी विमानों को एयरबोर्न वॉर्निंग व कंट्रोल सिस्टम (AWACS) द्वारा तत्काल ही पकड़ लिया गया था। उन्होंने बताया कि पाक के विमानों ने तीन ग्रुप में राष्ट्र की सीमा में घुसने का कोशिश किया। इस दौरान ही विंग कमांडर अभिनंदन ने पाक के एफ-16 विमान को ढेर कर दिया।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!