Breaking News

भाजपा के लिए यूपी में इस गठबंधन के सामने खुद को साबित करना बड़ी चुनौती

17वीं लोकसभा के लिए पहले चरण का मतदान 11 अप्रैल को होगा, ऐसे में सभी दलों ने चुनावी सभाओं में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है, भाजपा को हराने के लिए धुर-विरोधी दल साथ आ गए हैं, जिसमें सबसे पहला नाम आत है सपा और बसपा का, जिन्होंने लोकसभा चुनाव से पहले यूपी के उपचुनाव में हाथ मिलाकर भाजपा को उसी के घर में हराया था, जिसके बाद से अब भाजपा के लिए यूपी में इस गठबंधन के सामने खुद को साबित करना बड़ी चुनौती है।

पीएम नरेंद्र मोदी
‘लोकतंत्र में चुनौती होना बहुत अच्छी बात है’
इसी बारे में जब पीएम नरेंद्र मोदी से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में चुनौती होना बहुत अच्छी बात है, अगर चुनौती नहीं होगी तो हम अच्छा काम नहीं कर पाएंगे और इससे खुद की ताकत का अंदाजा भी होता है, लोकतंत्र बहुत ही वाइबरेंट होना चाहिए और मैं चाहता हूं कि चुनौतियां और बढ़ें ताकि हम भी निखरकर बाहर आएं लेकिन मीडिया के अंदर कौन कितनी जगह ले जा रहा है, टीवी के पर्दे पर कौन छाया रहता है, पेपर के फ्रंट पेज पर क्या छप रहा है, मुझे इससे फर्क नहीं पड़ता लेकिन अगर उसको कोई चुनौती मानता है तो उससे बड़ी कोई गलती नहीं है।

loading...

जब जनता आपके खिलाफ हो जाए तब चुनौती होती है
देश में प्रो इंकमबेंसी वेव: पीएम मोदी

जब जनता आपके खिलाफ हो जाए तब चुनौती होती है, जहां तक जनता का सवाल है, मैं कहीं एंटी इंकमबेंसी इस चुनाव में नहीं देख रहा हूं, मैं पहली बार देख रहा हूं कि प्रो इंकमबेंसी वेव है, लहर है, मैं भी तो जनता में जाकर आता हूं, लोगों से बात करता हूं, मैं हिंदुस्तान के करीब 70 प्रतिशत राज्यों में पिछले सात दिनों में होकर आया हूं, मैं जनता के बीच में रहने वाला इंसान हूं, मैं देख रहा हूं कि प्रो- गवर्मेंट लहर, ये अपने आप में हिंदुस्तान के लोकतंत्र में एक खुशनुमा पल है।

सपा-बसपा के गठबंधन से भाजपा को खतरा नहीं
सपा-बसपा के गठबंधन पर पीएम मोदी का जवाब

आपको बता दें कि पीएम मोदी वने यह बात एबीपी न्यूज चैनल के एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कही है। गौरतलब है कि उनसे पूछा गया था कि यूपी में सपा-बसपा के गठबंधन से लोकसभा चुनाव में भाजपा को नुकसान होगा, जिस पर पीएम मोदी ने यह जवाब दिया।

एबीपी न्यूज और नीलसन सर्वे
सपा-बसपा के साथ आने से भाजपा को भारी नुकसान: सर्वे

वैसे आपको यहां भी बता दें कि एबीपी न्यूज और नीलसन के सर्वे में ही कहा गया है कि आने वाले चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में बड़ा झटका लग सकता है। सर्वे के अनुसार भारतीय जनता पार्टी को उत्तर प्रदेश में 80 में से 36 सीटों पर ही जीत मिलेगी। वहीं प्रदेश में सपा, बसपा और आरएलडी गठबंधन के खाते में 42 सीटें जा सकती हैं। वहीं कांग्रेस की बात करें तो पार्टी को सिर्फ दो सीटों पर ही जीत मिल सकती है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!