Breaking News

एप्‍पल ने उठाया ये कदम, अब प्रीमियम स्‍मार्टफोन सेगमेंट में आई गिरावट जानिये कीमते

एप्‍पल ने अपने इतिहास में एक असामान्‍य कदम उठाया है। कंपनी भारत में प्रीमियम स्‍मार्टफोन सेगमेंट में कड़ी प्रतिस्‍पर्धा के बीच बिक्री बढ़ाने के लिए शुक्रवार से अपने नए आईफोन एक्‍सआर की कीमतों में 22 प्रतिशत तक की कटौती करने जा रही है।

अंग्रेजी अखबार दि इकोनॉमिक्‍स टाइम्‍स में छपी रिपोर्ट में इंडस्‍ट्री के तीन सीनियर एक्‍जीक्‍यूटिव ने बताया कि ताजा आंकड़ों के मुताबिक प्रीमियम स्‍मार्टफोन सेगमेंट में एप्‍पल तीसरे स्‍थान पर है और वह अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए कीमतों में कटौती करने जा रही है।

loading...

एक्‍जीक्‍यूटिव ने कहा कि एप्‍पल ने इससे पहले कभी भी अपने नए और फ्लैगशिप आईफोन मॉडल्‍स की सेलिंग प्राइस में कटौती नहीं की है। इससे पहले कंपनी कैशबैक ऑफर, नो-कॉस्‍ट फाइनेंसिंग और एक्‍सचेंज प्रोग्राम जैसे ऑफर देती रही है।

लेकिन अब एप्‍पल ने आईफोन एक्‍सआर के तीनों वेरिएंट की सेलिंग प्राइस में कटौती करने का फैसला किया है। आईफोन एक्‍सआर के 64जीबी को अब शुक्रवार से 59,900 रुपए में बेचा जाएगा, जिसकी पहले कीमत 76,900 रुपए थी। इसके 128जीबी मॉडल को अब 64,900 रुपए में बेचा जाएगा, जिसकी पहले कीमत 81,900 रुपए थी। वहीं 256जीबी मॉडल को अब 74,900 रुपए में बेचा जाएगा, जिसकी पहले कीमत 91,900 रुपए थी।

इसके अलावा एप्‍पल शुक्रवार से एचडीएफसी बैंक कार्ड पर एक कैशबैक प्रोग्राम भी शुरू करने जा रही है, जो सीमित अवधि के लिए होगा। इस ऑफर के तहत आईफोन एक्‍सआर पर 10 प्रतिशत का कैशबैक दिया जाएगा, जिसके तहत उपभोक्‍ता इसे केवल 53,900 रुपए में खरीद पाएंगे।

तीन में से एक सूत्र ने बताया कि आईफोन एक्‍सआर की सेलिंग प्राइस में 18-22 प्रतिशत की कटौती के बाद आईफोन एक्‍सआर की कीमत 2017 के फ्लैगशिप मॉडल आईफोन 8 के बराबर हो जाएंगी। एप्‍पल ने पिछले साल सितंबर में जब आईफोन एक्‍सआर को लॉन्‍च किया था, तब इसकी कीमत आईफोन 8 की तुलना में 20 प्रतिशत अधिक थी। एप्‍पल ने पिछले साल सितंबर में नए आईफोन की लॉन्चिंग कीमत 20 प्रतिशत बढ़ाई थी क्‍योंकि डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर था और इस पर 20 प्रतिशत इंपोर्ट ड्यूटी लगती है।

हालांकि, एप्‍पल भारत में आईफोन एक्‍सआर की स्‍टीकल प्राइस या अधिकतम खुदरा मूल्‍य (एमआरपी) को नहीं बदलेगी। इसकी जगह, कंपनी भारत में मार्केट ऑपरेटिंग प्राइस (एमओपी) रणनीति को अपनाएगी। सैमसंग और शाओमी इसी रणनीति के तहत अपनी बिक्री करती हैं। इस रणनीति के तहत आधिकारिक तौर पर उपभोक्‍ता बिक्री मूल्‍य एमआरपी से कम होता है।

एप्‍पल के लिए, इसकी एमआरपी ही आधिकारिक एओपी हुआ करती है, हालांकि ऑनलाइन और ऑफलाइन रिटेलर्स कुछ डिस्‍काउंट ऑफर करते हैं। एप्‍पल एमआरपी में कटौती सितंबर में होने वाले नए स्‍मार्टफोन मॉडल्‍स के लॉन्‍च के दौरान करेगी।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!