Breaking News

इस खतरनाक बीमारी का इलाज है BLACK TEA

चाय या कॉफी की बात हो तो हमें दूध वाली चाय या कॉफी ही पसंद आती है. बहुत कम लोग ये कहते होंगे कि उन्‍हें ब्‍लैक टी पसंद है.

दरअसल ब्‍लैक टी के नाम से ही लोग घबराते हैं. एक एक कारण तो ये भी है कि उन्‍हें ये पता ही नहीं होता कि इसे पीने के फायदे क्‍या हैं. शायद आपको भी पता ना हो. पर इससे पहले ये जान लीजिए कि ब्‍लैक टी होती कितनी तरह की है.कितनी तरह की होती है

loading...

सबसे पॉपलुर है वो ब्‍लैक टी जिसे आप नॉर्मल तरीके से घर पर तैयार कर पी सकते हैं. नींबू आदि मिलाकर पी सकते हैं. बाजार में ब्‍लैक टी के वेरियंट के तौर पर इंग्लिश ब्रेकफास्ट टी, अर्ल ग्रे टी, असम टी, दार्जिलिंग टी, नीलगिरी टी जैसी कई विरायटीज मौजूद हैं.

क्‍या कहते हैं शोध
कुछ समय पहले अमेरिका के कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी में एक शोध किया गया था. इसकी रिपोर्ट यूरोपियन जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन में पब्लिश हुई थी. अध्ययन में प्रोफेसर हेनिंग और उनकी टीम ने पाया था कि ब्लैक टी में कई विशेष तरह के तत्‍व पाए जाते हैं. जब कोई ब्‍लैक टी पीता है तो चाय के विशेष तत्‍व उसके पेट में पहुंचकर बेहद असर दिखाते हैं. इससे वजन घटाने में मदद मिलती है. साथ ही बॉडी से टॉक्सिंस बाहर निकलते हैं.

क्‍या हैं फायदे
इस चाय में एंटी ऑक्सीडेंट काफी ज्यादा होते हैं. कई शोधों में वैज्ञानिकों ने कहा है कि ब्लैक और ग्रीन टी, दोनों में प्रोबॉयोटिक्स तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में प्रतिरोधक सूक्ष्मजीवों को बढ़ाने में मददगार हैं. ब्लैक टी पीने से शरीर का वजन कंट्रोल में रहता है. ये कई तरह की बीमारियों से बचाव भी करती है.

चूंकि काली चाय में दूध और चीनी नहीं होती, इसलिए इसे पीने से बॉडी में फैट नहीं जमता. चाय के एंटीऑक्सीडेंट शरीर की अतिरिक्त चर्बी को बर्न करते हैं. एक शोध में ये बात सामने आई थी कि दिन में 3 बार ब्लैक टी पीने से ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है. अगर सिरदर्द हो तो ब्लैक टी बनाकर उसमें नींबू डालकर पीएं. इससे सिरदर्द में आराम मिलता है.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!