Breaking News

कोरियन एयर में हवाई यात्रा के दौरान यात्रियों को मूंगफली परोसने पर हुए विवाद के बाद, कंपनी ने किया मूंगफली से तौबा

दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी विमानन कंपनी कोरियन एयर में हवाई यात्रा के दौरान यात्रियों को मूंगफली परोसने पर हुए विवाद के बाद कंपनी ने आखिरकार मूंगफली से तौबा कर ली है। कोरियन एयरलाइंस की ओर से रविवार को बयान जारी कर कहा गया है कि अब विमान यात्रा के दौरान वह यात्रियों को मूंगफली नहीं परोसेगी। कंपनी ने यह भी बताया है कि वह धीरे-धीरे मेन्यू से उस हर चीज को हटा देगी जिसमें मूंगफली का इस्तेमाल किया गया हो। बता दें कि कोरियन एयरलाइंस में पांच साल पहले 2014 में मूंगफली से जुड़े विवाद की वजह से कंपनी की उपाध्यक्ष हीथर चो को एक साल जेल की सजा मिली थी। अब पिछले बुधवार को कंपनी के संस्थापक और हीथर के पिता चो यांग हो को कंपनी बोर्ड से हटा दिया गया।

मूंगफली के कारण दो यात्री नहीं चढ़े

मूंगफली के कारण ही इसी महीने सियोल में दो यात्रियों को विमान में नहीं चढ़ने दिया गया। सियोल में जिन दो यात्रियों को विमान में नहीं चढ़ने दिया गया उन्हें मूंगफली से एलर्जी थी। उन्होंने कंपनी से गुजारिश की थी कि उनके आस-पास बैठे किसी यात्री को मूंगफली ना परोसी जाए। कंपनी ने इस अनुरोध को नहीं माना था जिसकी वजह से दोनों को यात्रा रद्द करनी पड़ी थी। बाद में कोरियन एयरलाइंस ने अपनी गलती मानी और उनसे माफी मांगी। लेकिन अब कंपनी ने यात्रा के दौरन मूंगफली नहीं परोसने का निर्णय किया है।

loading...

फ्लाइट अटेंडेंट को हीथर ने जड़ा थप्पड़

मूंगफली को लेकर कोरियन एयर में विवाद 2014 में शुरू हुआ था। न्यूयॉर्क से उड़ान भरने वाली कंपनी की एक विमान में कंपनी की उपाध्यक्ष हीथर चो भी सवार थीं। जब फ्लाइट अटेंडेंट ने हीथर को मूंगफली का पैकेट सर्व किया को वह इससे नाराज हो गईं। उन्होंने कहा कि विमान की फर्स्ट क्लास में मूंगफली प्लेट में निकालकर परोसी जानी चाहिए थी। इस कहासुनी में उनका पारा इतना चढ़ गया कि उन्होंने फ्लाइट अटेंडेंट को थप्पड़ मार दिया। मामला कोर्ट पहुंचा जहां इस व्यवहार के लिए उन्हें 12 महीने जेल की सजा सुनाई गई।

हीथर चो के थप्पड़ की गूंज

हीथर चो के थप्पड़ की गूंज दुनिया भर में गूंजी। एयरलाइंस और हीथर की दुनियाभर में आलोचना हुई। इससे उनके पिता चो यांग हो की कंपनी में हैसियत कमजोर होती गई। पांच साल बाद पिछले बुधवार को चो को बोर्ड से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। चो पर कई अन्य आरोप थे। लेकिन विशेषज्ञों की मानें तो साल 2014 के थप्पड़ कांड की उनके कंपनी के बोर्ड से बाहर होने में बड़ी भूमिका रही है।

एयरलाइंस की आमदनी 77 हजार करोड़ रुपये

दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी एयरलाइंस कंपनी कोरियन एयर का रेवेन्यू 77 हजार करोड़ रुपए (2017 के आंकड़े) है। कंपनी के पास 166 विमान हैं जो 44 देशों के 124 शहरों में अपनी सेवाएं मुहैया कराते हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!