Breaking News

लंदन से जर्मनी के ड्यूस्‍सेलडोर्फ जा रही फ्लाइट में सवार यात्रियों मिला ऐसा सरप्राइज

सोमवार को लंदन से जर्मनी के ड्यूस्‍सेलडोर्फ जा रही फ्लाइट में सवार यात्रियों को एक ऐसा सरप्राइज एयरलाइंस की ओर से मिला जिसके बारे में उन्‍होंने कभी नहीं सोचा होगा। यह फ्लाइट जर्मनी की जगह गलती से स्‍कॉटलैंड लैंड कर गई। यात्रियों को समझ ही नहीं आया कि आखिर यह क्‍या हुआ और कैसे हुआ ? लेकिन बाद में समझ आया कि पेपरवर्क के चलते यह ‘महाभूल’ एयरलाइंस की तरफ से हुई है।

पेपरवर्क की एक गलती और यात्रियों को परेशानी

loading...

ब्रिटिश एयरवेज की ओर से घटना के बाद एक बयान जारी किया गया है। इस बयान में पेपरवर्क को इस गलती की वजह बताया गया है। एयरलाइंस की तरफ से कहा गया है कि जर्मनी की कंपनी ने प्‍लेन को किराए पर लिया था। इस कंपनी का नाम डब्‍लूडीएल एविएशन है और कंपनी ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स के पास जो डॉक्‍यूमेंट्स दिए उसमें गलत रास्‍ते की जानकारी थी। बयान में कहा गया है, ‘हम डब्‍लूडीएल एविएशन के साथ मिलकर काम कर रहे हैं, जो ब्रिटिश एयरवेज की तरफ से इस फ्लाइट को ऑपरेट कर रही थी। हम यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि आखिर कैसे गलत रास्‍ते की जानकारी डॉक्‍यूमेंट में दी गई।’

800 किलोमीटर दूर फ्लाइट लैंडिंग से यात्री चौंके

लंदन सिटी एयरपोर्ट से ब्रिटिश एयरवेज की फ्लाइट बीए3271 ने टेक ऑफ किया। फ्लाइट पूरी तरह से सुरक्षित थी लेकिन गलत पेपरवर्क की वजह से क्रू जिसमें पायलट भी शामिल था, और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर्स को लगा कि प्‍लेन की डेस्टिनेशन एडिनबर्ग है। लेकिन यात्रियों को यह बात समझ नहीं आई और उन्‍होंने फ्लाइट अटेंडेंट्स को बताया कि उन्‍हें जहां जाना था, प्‍लेन उससे करीब 520 मील दूर यानी करीब 837 किलोमीटर दूर लैंड कर गई है। एक यात्री सॉन ट्रान ने इसके बाद ट्विटर पर ब्रिटिश एयरवेज से इसकी सफाई मांगी। उन्‍होंने अपनी पोस्‍ट के जरिए ब्रिटिश एयरवेज पर तंज कसा और लिखा, ‘मुझे नहीं लगता कि फ्लाइट में सवार कोई भी यात्री को इस मिस्ट्री ट्रैवेल लॉटेरी से खुश नहीं होगा।’ हालांकि ब्रिटिश एयरवेज ने बाद में अपनी गलती के लिए यात्रियों से माफी मांग ली है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!