Breaking News

राजकोट पुलिस ने पबजी खेलने वाले 6 अंडरग्रेजुएट छात्र गिरफ्तार

गुजरात के राजकोट में करीब एक हफ्ते पहले ‘प्लेयर अननोन बैटलग्राउंड्स’ (पबजी) पर प्रतिबंध को लेकर एक अधिसूचना जारी की गई थी। लेकिन लोगों ने इसके बावजूद भी पबजी खेलना नहीं छोड़ा। बीते दो दिनों में राजकोट पुलिस ने पबजी खेलने वाले 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। इनमें से 6 छात्र (अंडरग्रेजुएट) हैं।

पुलिस कमिश्नर मनोज अग्रवाल का कहना है कि 6 मार्च को गेम पर प्रतिबंध को लेकर अधिसूचना जारी होने के बाद से अब तक 12 मामले दर्ज हो चुके हैं। ये एक तरह का जमानती अपराध है। पुलिस लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर सकती है लेकिन गिरफ्तार करके नहीं रख सकती। इन्हें तुरंत बेल मिल सकती है। अधिसूचना की अवहेलना के कारण मामला कोर्ट में जा सकता है और ट्रायल भी होता है।

बुधवार को राजकोट स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसजीओ) ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया। इन्हें रंगे हाथों पबजी खेलते हुए पकड़ा गया। इन्हें हिरसात में लिया गया। इन लोगों के खिलाफ दो मामले दर्ज किए गए हैं। पुलिस का कहना है कि इन लोगों के फोन जांच के लिए जब्त किए गए हैं। इस गेम को खेलते हुए इसकी लत लग जाती है। जिन लोगों को पुलिस ने पकड़ा वो गेम में इतना खोए हुए थे कि उन्हें ये पता ही नहीं चला कि पुलिस की टीम उन तक पहुंच गई है।

loading...

गिरफ्तार लोगों में दो नौकरी करते हैं जबकि एक नौकरी की तलाश में है। इससे एक दिन पहले पुलिस ने 6 कॉलेज छात्रों को गिरफ्तार किया था। ये छात्र कॉलेज के बाहर चाय और खाने की दुकान पर गेम खेल रहे थे। पुलिस ने इन लोगों के फोन की तलाशी ली कि उनके फोन में पबजी खेला जा रहा था या नहीं। बाद में सभी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

6 मार्च को जारी अधिसूचना में पुलिस ने पबजी और मोमो चैलेंज पर प्रतिबंध लगाया था। पुलिस को जानकारी मिली थी इन खेलों को खेलने के बाद युवा हिंसक हो रहे हैं। इससे युवाओं और बच्चों की पढ़ाई और व्यवहार पर भी प्रभाव पड़ता है। लोगों की सुरक्षा और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए इन दो खेलों पर प्रतिबंध लगाया गया।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!