Breaking News

एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का आया बयान

पुलवामा हमले के 13वें दिन भारतीय वायुसेना द्वारा की गई एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की संख्या पर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का बयान आया है। अमित शाह ने कहा कि पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के 250 से ज्यादा आतंकी मारे गए थे। उनका कहना है कि हमारी सेना बगैर नुकसान उठाए आतंकियों का सफाया करने में कामयाबी हासिल की।

अमित शाह ने यह बातें अहमदाबाद में लक्ष्य जीतो कार्यक्रम के दौरान कहीं। शाह ने कहा है कि उड़ी हमले के जवाब में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद ज्यादातर लोगों का मानना था कि पाकिस्तान में दूसरी बार ऐसा कर पाना नामुमकिन है। लेकिन नरेंद्र मोदी की सरकार ने एयर स्ट्राइक से आतंकियों का खात्मा करके अपनी मजबूत इच्छाशक्ति को दिखा दिया। बता दें कि पाकिस्तान और देश के कुछ विपक्षी दलों का मानना है कि वायुसेना ने कोई आतंकी नहीं मारे। पाकिस्तान तो अपनी जमीन पर आतंकियों के मारे जाने से साफ इनकार कर रहा है।

loading...

कितने आतंकी मरे, इस पर नहीं आई अधिकारिक जानकारी

मीडिया रिपोर्ट्स में मारे गए आतंकियों की संख्या 300 से 350 बताई जा रही है, हालांकि, इस बारे में सरकार या सेना का कोई अधिकारिक ऐलान नहीं हुआ है। ऐसे में लोग इस तरह के सवाल कर रहे हैं कि कितने आतंकी मरे होंगे। वहीं, भाजपा चीफ ने पहली बार दावा किया है कि वायुसेना ने ढ़ेर सारे आतंकियों को दफन कर दिया है।

‘अभिनंदन को सकुशल छुड़वाया’

शाह ने यह भी कहा कि, जब विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तान ने बंदी बना लिया था तो लोगों ने सरकार की निंदा की। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का प्रभाव है कि पाकिस्तान ने तुरंत ही अभिनंदन को छोड दिया है। दुनिया में अगर युद्ध कैदी की तेज वापसी हुई है तो वह भारत के जवान अभिनंदन की है।

कांग्रेस ने दागे सवाल- कहां से आया आंकडा

वहीं, कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोशी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए कहा कि वायुसेना ने पाकिस्तान में जो हमला किया, उसमें 350 आतंकी मारे गए इसकी कोई अधिकारिक सूचना तो आई ही नहीं है। मारे गए आतंकवादियों की सही संख्या की घोषणा न तो पाकिस्तान नहीं कर पाया है और न ही भारतीय वायु सेना के पास भी कोई आंकड़ा है। ऐसे में भाजपा के राजनेता के पास यह आंकड़ा कैसे आया? यह जांच का विषय है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!