Breaking News

सेक्स के दौरान जल्दबाजी में ना करें इसका प्रयोग, वर्ना हो सकते है एड्स के शिकार

जल्दबाजी में शारीरिक संबंध बनाने के चक्कर में लोग अक्सर ल्यूब का इस्तेमाल करते हैं। ऐसा लोग इसलिए भी करतै हैं क्योकि वैजाइनल ड्राइनेस की वजह से पेनीट्रेशन ढंग से नहीं हो पाता। आसानी से पेनिट्रेट करने के लिए पुरूष ल्यूब का सहारा लेते हैं।

लेकिन हर बार आपके पास ल्यूब मौजूद हो यह जरूरी नहीं ऐसे में कई मर्द DIY सॉल्यूशन की ओर रूख कर लेते हैं जैसे थूक, वैसलीन, तेल आदि। लेकिन इन जुगाड़ के चक्कर में आप एड्स के शिकार भी हो सकते हैं।

loading...

थूक: अक्सर लोग कुछ न मिलने पर थूक का इस्तेमाल यूं ही कर लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं इससे एसटीडी होने के खतरा बढ़ता है साथ ही वैजाइना में इंफेक्शन भी हो सकता है।
वैसलीन: हां ये लुब्रिकेशन जैसा ही लगता है लेकिन पेट्रोलियम से बना होने के कारण इसके इस्तेमाल से इंफेक्शन होने का खतरा होता है। जर्नल ऑब्सटेट्रिक्स एंड गायनाकॉलोजी के स्टडी के अनुसार पेट्रोलियम जेली लगाने से बैक्टिरियल वैजिनोसीस होने की संभावना रहती है।

ये टिप्स महिलाओं को देर तक सेक्स करने के लिए कर डेट है मजबूर, महिलाओ की सबसे बड़ी.

नारियल तेल: वैसे तो नारियल तेल लगाना उतना नुकसानदायक तो नहीं होता है लेकिन क्या आपको पता है कि नारियल तेल लगाने से कंडोम का लैटेक्स कम हो जाता है जिससे उसके फटने की संभावना रहती है। और अब तो आप समझ ही गए होंगे कि इससे अनचाहे प्रेगनेंसी या एसटीडी होने का खतरा बढ़ जाता है।

ऑलिव ऑयल: ये तेल ऑयल वाला ल्यूब जैसा काम करता है जो कंडोम के लैटेक्स पर प्रभावकारी रूप से असर डालता है। इसलिए फूड प्रोडक्ट वाले ऑयल का इस्तेमाल न करके ऑर्गैनिक ल्यूब का इस्तेमाल करने से वैजाइना और कंडोम दोनो सेफ रहता है।

बेबी ऑयल: वैसे तो लोग बेबी ऑयल का इस्तेमाल करना सेफ है ये सोचकर इसका यूज़ करते हैं लेकिन इससे यीस्ट इंफेक्शन होने और कंडोम का असर कम होने का खतरा रहता है। इसलिए इसका इस्तेमाल करने से बचें।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!