Breaking News

कुंभ मेले में तैनात इंस्पेक्टर मिथलेश की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

प्रयागराज के कुंभ मेले में तैनात अन्न क्षेत्र थाना के प्रभारी इंस्पेक्टर मिथलेश की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी है। घटना के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। इंस्पेक्टर मिथलेश का शव पोस्टमॉर्टम के लिये भेज दिया गया है, पीएम रिपोर्ट के बाद ही उनकी मौत का सही सही कारण पता चल सकेगा।

जानकारी के अनुसार इंस्पेक्टर को तीन दिन पहले ही निलंबित किया गया था, हालांकि अधिकारियों से जब इस बावत पूछा गया तो वह निलंबन का कारण नहीं बता सके। मातहत सिपाहियों ने बताया कि निलंबन के बाद से इंस्पेक्टर काफी तनाव में थे। उन्हें खून की उल्टी हुई थी और देर रात जब उन्हें वह उठाने गये तो उनकी मौत हो चुकी थी। उत्तर प्रदेश के गाजीपुर मोहम्मदाबाद थाना स्थित हरिहरपुर, तिवारीपुर के रहने वाले मिथलिेश राय की भदोही जनपद में तैनाती थी।

loading...

प्रयागराज में कुंभ शुरू हुआ तो उन्हें यहां बुला लिया गया और थाना अन्न क्षेत्र का उन्हें प्रभार दिया गया था। शनिवार की सुबह वह सेक्टर 12 स्थित अपने सरकारी आवास में थे। पुलिस के अनुसार, सुबह करीब 8 बजे वह आवास से बाहर आकर टहल रहे थे और कुछ देर बाद वापस फिर अंदर चले गये। लगभग 9 बजे थाने में तैनात एक सिपाही उन्हें बुलाने कमरे में पहुंचा तो मिथिलेश अपने बिस्तर पर बेसुध पड़े थे और बिस्तर के आस पास खून फैला हुआ था। मिथलेश के मुंह पर भी खून था और उन्हें खून की उल्टी हुई थी। सिपाही सूचना बाहर भेजी तो आनन-फानन में इंस्पेक्टर को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

घटना के बाद मौके पर पुलिस व प्रशासनिक अफसर पहुंचे। पूछताछ के बाद चला कि इंस्पेक्टर पिछले कुछ समय से बीमार थे। पुलिस के अनुसार इंस्पेक्टर मिथिलेश को लीवर संबंधी बीमारी थी। हालांकि, घटना को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं रहीं। एसपी कुंभ मेला समीर सौरभ ने बताया कि तनाव जैसी किसी बात की उन्हें जानकारी नहीं है। शव को पोस्टमॉर्टम के लिये भेजा गया है और रिपोर्ट से स्पष्ट हो जायेगा कि आखिर मौत कैसे हुई है। हालांकि, मीडियाकर्मियों ने जब इंस्पेक्टर के निलंबन का कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि इसके बारे में अभी उनके पास कोई जानकारी नहीं है। जबकि अन्य अफसर भी यही जवाब दोहराते नजर आये।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!