Breaking News

अगर भारत पकिस्तान का हुआ युद्ध तो ये सभी देश देंगे भारत का साथ

पुलवामा में हुए चरमपंथी हमले के बाद से ही भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पुलवामा हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुस कर बालाकोट में बने आ$तंकी कैम्पों पर हमला बोला। इसके बाद पाकिस्तान ने इस हमले का जवाब देने की बात गई।

पाकिस्तान ने कहा कि उनका जवाब भारत को हैरान कर देगा। भारत पाकिस्तान के बीच तनाव लगातार बढ़ता जा रहा है और हालात युद्ध जैसे होते जा रहे है। आज हम आपको बताने जा रहे है कि अगर भारत पाक में युद्ध हो जाता है तो कौन कौन से देश भारत और पाकिस्तान का साथ देंगे।

loading...

पाकिस्तान का साथ दे सकते है यह देश

चीन : भारत पाक में अगर युद्ध छिड़ता है तो इसमें कोई दोराह नहीं है कि चीन पाक का साथ देगा। चीन ने पाकिस्तान में हाल ही में करीब 46 बिलियन डॉलर से ज्यादा निवेश किया है। हालांकि भारत में आतं$की हमले के बाद चीन ने मिलकर आतंक$वाद का सामना करने की बात कही थी लेकिन वह अंतरराष्ट्रीय मंचों पर अक्सर पाकिस्तानी आतं$कियों का बचाव करता नजर आता है।

तुर्की : तुर्की और पाक के बीच ऐतिहासिक संबंध है। दोनों इस्लामिक राष्ट्र है और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अच्छे दोस्त माने जाते है। हाल ही में पाक के प्रधानमंत्री इमरान खान ने तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन से मुलाकात भी की थी। इस मुलाकात में भारत पाक के विवाद पर भी बात हुई थी।

मिस्र : अरब गणराज्य मिस्र और पाकिस्तान के बीच द्विपक्षीय संबंध कई दशकों से रहे है। साल 1947 में पाक के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना को मिस्र के राजा फुआद I ने विशेष निमंत्रण भेज कर बुलाया था। मिस्र से पाक के संबंध काफी अच्छे है अगर भारत और पाक में जंग छिड़ी तो मिस्र पाक की मदद करेगा।

सऊदी अरब : सऊदी अरब और पाक के बीच के अच्छे संबंध किसी से छिपे नहीं है। हाल ही में जब सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान पाक आए थे तो खुद पीएम इमरान खान उन्हें ड्राइवर की तरह लेकर आए थे।

खाड़ी देश- इसके आलावा भारत से युद्ध होने की स्थिति में कई खाड़ी देश भी पाक की मदद कर सकते है जिसमें बहरीन, कुवैत, ओमान, संयुक्त अरब अमीरात भी शामिल हैं।

यह देश कर सकते है भारत की मदद

अमेरिका : वैसे तो अमेरिका और पाकिस्तान में गहरे रिश्ते है। पाक अमेरिका के अरबों डॉलर के कर्ज तले दबा हुआ है। इसके आलावा अमेरिका हथियारों से भी पाकिस्तान की मदद करता हैं। लेकिन अगर भारत की विदेश नीति पर नजर डाले तो अमेरिका भारत के साथ आ सकता है। अगर चीन ने पाक का साथ दिया तो निश्चित तौर अमेरिका भारत की मदद करेगा।

रूस : भारत और रूस में लंबे समय से बहुत ही अच्छी दोस्ती रही है। भारत और रूस संकट के समय में एक दूसरे के साथी रहे है। इसके आलावा रूस भारत का सामरिक साझेदार भी है। ऐसे में भारत को रूस से भी मदद मिल सकती है।

ऑस्ट्रेलिया : ऑस्ट्रेलिया भी पाक से युद्ध की परिस्थिति में भारत की मदद कर सकता है। पुलवामा हम’ले के बाद ऑस्ट्रेलिया ने कहा था कि पाकिस्तान को अपने क्षेत्र में चल रहे सभी आतंक’वादी संगठनों पर तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए। पाक को जैश-ए-मोहम्मद को खत्म करने की हर संभव प्रयास करना चाहिए।

जापान : भारत और पाक के बीच युद्ध की स्थिति में जापान भी भारत की मदद कर सकता है। भारत और जापान के बीच सामरिक साझेदारी है दोनों के बीच अच्छे संबंध रहे है। वहीं जापान और चीन अच्छे पढ़ोसी नहीं है ऐसे में चीन को घेरने के लिए जापान भारत के लिए महत्वपूर्ण है।

फ्रांस : भारत और पाक के बीच युद्ध की स्थिति में भारत की मदद फ्रांस भी कर सकता है। फ्रांस और भारत के बीच रणनीतिक साझेदारी भी है और दोनों देशों के बीच काफी पुराने संबंध है।

इजरायल: युद्ध की स्थिति में इजरायल भी भारत की मदद कर सकता है। पुलवामा हम’ले के बाद से ही इजरायल ने भारत के सामने हर तरह की मदद देने की पेशकश की है।

नाटो- अमेरिकी नेतृत्व में साल 1949 में बने नाटो में संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस, कनाडा, इटली, नीदरलैंड, आइसलैण्ड, बेल्जियम, लक्जमर्ग, नार्वे, पुर्तगाल और डेनमार्क शामिल है जो युद्ध की स्थिति में भारत की मदद कर सकते हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!