Breaking News

इस सड़क हादसे का शिकार हुए भाजपा नेता समेत परिवार के इतने लोग, एक साथ उठी 12 अर्थियां

मध्यप्रदेश के उज्जैन के लोग 29 जनवरी की मंगलवार की सुबह कभी नहीं भूल पाएंगे। एक सड़क हादसे में यहां के 12 लोगों की जान चली गई। हादसा सोमवार रात बारह बजे नागदा-उन्हेल रोड पर भैंरूगढ़ के पास हुआ। मंगलवार को एक साथ 12 अर्थियां उठी तो हर किसी का कलेजा फट पड़ा।

दरअसल, सोमवार की रात्रि में नागदा से विवाह समारोह में शामिल होकर मारुती वैन से उज्जैन आ रहे भाजपा नेता अर्जुन कायत की गाड़ी को सामने से तेज गति से आ रही कार ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी भयंकर थी कि वैन के परखच्चे उड़ गए। हादसे में कायत, उनके परिजन व रिश्तेदारों समेत 12 जनों की मौत हो गई। पुलिस ने उज्जैन के जिला अस्पताल में पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सौंप दिए।

loading...

Ujjain Accident के बाद एक साथ उठी 12 अर्थियां
पोस्टमार्टम के मंगलवार सुबह जैसे ही एक साथ इतने शव घर लाए गए तो पूरे मोहल्ले में कोहराम मच गया। किसी के घर में चूल्हे तक नहीं जले। पूरे शहर में शोक की लहर रही। बाजार भी बंद रहे। एक साथ सभी मृतकों का अंतिम संस्कार क्षिप्रा किनारे चक्रतीर्थ पर किया गया।

आर्थिक मदद की घोषणा

हादसे की जानकारी मिलने के बाद शोक संवेदना व्यक्त करने और मृतकों के परिजनों को ठांठस बांधने संभागायुक्त, कलेक्टर, एसपी सहित विधायक और अन्य जनप्रतिनधि भी पहुंचे। वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने घटना पर गहरा शोक व्यक्त किया और मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख और घायलों को एक एक लाख रुपए की आर्थिक मदद की घोषणा की है।

दूसरे गाड़ी के एयर बैग खुले

हादसे में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौत हो गई। इनमें केबल ऑपरेटर अर्जुन कायत, उनकी पत्नी राजूबाई, बेटा शुभम और दो बेटियां रवीना और बुलबुल शामिल हैं। ये सभी तिलकेश्वर क्षेत्र में रहते थे। मरने वालों में कुलदीप (24), तीजाबाई (55), राजूबाई (45), रवीना (22), धर्मेंद्र (38), अर्जुन (49), सलोनी (13), राधिका (7), बुलबुल (20), सिद्धि (2), चंचल (22), शुभम (20) आदि शामिल है। वैन व कार की आमने-सामने की भीड़ंत में वैन में सवार 12 जनों की मौत हो गई, मगर सामने वाली कार के एयर बैग खुलने के कारण उसमे सवार लोग सुरक्षित बच् गए। हालांकि वे भी हादसे में घायल हुए हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!