Breaking News

टेंडर : मेट्रो कोच के निर्माण की प्रौद्योगिकी एवं विशेषज्ञता की खरीद के लिए

मार्डन कोच फैक्टरी (एमसीएफ) ने साल 2021 तक राष्ट्र में ही पहले ‘मेक इन इंडिया’ मेट्रो कोच के निर्माण की प्रौद्योगिकी एवं विशेषज्ञता की खरीद के लिए 150 करोड़ रुपये का टेंडर जारी किया है. ये कोच अंतर्राष्ट्रीय मानकों के होंगे.

सूत्रों ने बताया कि एमसीएफ, रायबरेली ने पिछले सप्ताह यह टेंडर जारी किया. यह टेंडर डिजाइन, विकास, विनिर्माण, परीक्षण व एल्युमीनियम के बने यात्री कोचों के रखरखाव के लिए प्रौद्योगिकी के ट्रान्सफर के लिए जारी किया गया है.

loading...

योजना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि हम इस तरह के कोच उत्पादन के बाजार का भाग बनना चाहते हैं.इससे हम अपने शहरों की जरूरतों को पूरा करने में सक्षम होंगे जो लगातार यातायात विकल्पों का विस्तार कर रहे हैं. अभी इन कोच का बड़े पैमाने पर आयात किया जा रहा है. हम इन्हें बहुत कम लागत पर तैयार कर सकते हैं. सूत्रों ने बताया कि टेंडर 28 फरवरी 2019 को खुलेगा व 2021 तक हम पहला कोच बनाकर पेश कर देंगे.
पर्याप्त संख्या में ऑर्डर मिलने पर लागत में आएगी कमी

कोलकाता मेट्रो के कोच का निर्माण अभी चेन्नई के इंटीग्रल कोच फैक्टरी में किया जाता है लेकिन एमसीएफ द्वारा उत्पादित किए जाने वाले डिब्बे डिजाइन व तकनीक के मामले में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के होंगे.

रेलवे के एक वरिष्ठ ऑफिसर ने बताया कि अभी जिन मेट्रो डिब्बों का हम आयात करते हैं उनकी अनुमानित लागत आठ से नौ करोड़ रुपये प्रति कोच होती है, जबकि राष्ट्र में ही बनने वाले कोच की लागत सात से आठ करोड़ रुपये होती है. यदि सही मात्रा में हमें इन कोच का ऑर्डर मिलने लगे तो इनकी लागत चार से छह करोड़ रुपये आ जाएगी.

रोबोट से कराया जाएगा निर्माण
आवास एवं शहरी विकास मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली-एनसीआर, बंगलूरू, मुंबई, लखनऊ, चेन्नई, नागपुर, पुणे, कोच्चि, अहमदाबाद, नोएडा-ग्रेटर नोएडा, हैदराबाद, जयपुर, कोलकाता व गुरुग्राम समेत कई अन्य शहरों में मेट्रो का परिचालन एवं निर्माण चल रहा है. ऐसे में बड़ी मात्रा में मेट्रो कोच की आवश्यकता होगी.

सूत्रों ने बताया कि एमसीएफ में मेट्रो कोच का निर्माण अंतर्राष्ट्रीय स्तर के मानकों की तरह रोबोट से कराया जाएगा. ये चाइना एवं अन्य राष्ट्रों से आयात किए जाने वाले कोच के मुकाबले 40 फीसदीतक सस्ते होंगे. साथ ही कोच में वाईफाई, सीसीटीवी कैमरे, मोबाइल चार्जर प्वाइंट समेत अन्य सुविधाएं भी होंगी.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!