Breaking News

हिंदू लड़की का धर्म परिवर्तन, मुस्लिम व्यक्ति से करवा दी शादी

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक हिंदू लड़की का कथित रूप से धर्म परिवर्तन कर एक मुस्लिम व्यक्ति से शादी कराने का मामला सामने आया है। रिपोर्ट के अनुसार, 16 वर्षीय लड़की का अपहरण कर मुस्लिम व्यक्ति से उसकी जबरदस्ती शादी करा दी गई। पीड़िता का नाम अनुषा मेघवार बताया जा रहा है, जिसे पाकिस्तान के सिंध प्रांत के थारपारकर के सलाम कोट क्षेत्र से कथित रूप से अपहरण कर लिया गया था। पाकिस्तान में हिंदू अल्पसंख्यकों के साथ होने वाली यह कोई नई घटना नहीं है।

न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक, जिस मुस्लिम व्यक्ति से मेघवार की शादी हुई है, उसे कथित तौर पर स्थानीय मुस्लिम धर्मगुरु का समर्थन मिला है। इससे पहले वहां के इस मौलवी ने कथित रूप से कई हिंदू अल्पसंख्यक लोगों के धर्मांतरित किया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, थारपारकर इलाके में कम से कम 80 फीसदी लोग हिंदू धर्म से ताल्लुक रखते हैं। पाकिस्तान में हिंदू आबादी कई एंटी हिंदू ग्रुप्स का अक्सर शिकार होती है, जो उन्हें अपहरण, बलात्कार, जबरन धर्मांतरण और विवाह के लिए मजबूर करते हैं।

loading...

पाकिस्तान में पुलिस इस प्रकार के मामले बहुत कम दर्ज करती है। वहीं, इसे पाकिस्तान की इमरान सरकार की नाकामी भी माना जाना चाहिए, जो इस प्रकार की घटनाओं को रोकने में नाकाम रही है। साथ ही उनकी पीपीपी (पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी)) की प्रांतीय सरकार ने भी इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए कोई कदम उठाया है।

मानवाधिकार कार्यकर्ता कपिल देव कहते हैं कि अनुषा की जबरन शादी ने एक बार फिर इलाके के हिंदू समुदाय को एक संदेश दिया है कि उनके बच्चे पाकिस्तान में सुरक्षित नहीं हैं और उन्होंने 1947 में सिंध में रहने के लिए एक गलत फैसला लिया था।

गरीब सवर्णों के आरक्षण में बैरियर बन सकता है सुप्रीम कोर्ट, दिया ये फैसला

बता दें कि भारत में पिछले कई सालों से बड़ी संख्या में पाकिस्तानी हिंदू शरणार्थी रह रहे हैं, जो अत्याचार की वजह से वापस अपने मुल्क जाने के लिए तैयार नहीं है। भारत में रह रहे पाकिस्तनी हिंदू शरणार्थियों का आरोप है कि वहां मुस्लिम कट्टरपंथी और हिंदू विरोधी संगठन उन्हें न सिर्फ परेशान करते हैं, बल्कि बलात्कार, जबरन धर्मांतरण और विवाह के लिए मजबूर तक करते हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!