Breaking News

सिर्फ 23 साल की उम्र में मिली थी न्यूयॉर्क शेयर बाजार में फुल टाइम ट्रेडर की जॉब…

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज की शेयर ट्रेडर लॉरेन सिमंस पर फिल्म बनाई जाएगी। दुनिया के सबसे बड़े शेयर बाजार में 24 साल की लॉरेन सबसे कम उम्र की फुल टाइम महिला ट्रेडर हैं। फिल्म के लिए प्रोडक्शन कंपनी एजीसी स्टूडियो ने लॉरेन के साथ करार किया है। फिल्म में लॉरेन की जिंदगी पर आधारित होगा कि और इसमें दिखाया जाएगा कि वे कैसे ट्रेडर बनीं। एक्ट्रेस किर्सी क्लिमोंस लॉरेन का किरदार निभाएंगी और वे इस फिल्म की निर्माता भी हैं।

सिर्फ 23 साल में आई इस पेशे में

loading...

लॉरेन को सिर्फ 23 साल की उम्र में न्यूयॉर्क शेयर बाजार में फुल टाइम ट्रेडर की जॉब मिली थी। तब वे इकलौती महिला ट्रेडर थीं और सबसे कम उम्र की भी। लॉरेन कहती हैं, ‘जब मैं लोगों को अपने काम के बारे में बताती हूं तो वे यकीन नहीं करते, क्योंकि यह शेयर बाजार का काम पुरुषों के वर्चस्व वाला क्षेत्र है।’

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज के पुराने ट्रेडर्स भी कहते हैं कि यह काम महिलाओं का नहीं है। एक तो दबाव बहुत ज्यादा होता है। दूसरा यहां जिस तरह की भाषा और संकेतों का इस्तेमाल होता है वह महिलाओं के लिए ठीक नहीं।

डॉक्टरी के पेशे में जाना चाहती थीं लेकिन…

लॉरेन 2016 में स्नातक की पढ़ाई के बाद न्यूयॉर्क आ गई थीं। पहले वे डॉक्टरी के पेशे में जाना चाहती थीं। लेकिन गणित के प्रति लगाव के कारण वे फाइनेंस के क्षेत्र में आ गईं। उन्होंने लिंक्डइन के जरिए आवेदन किया था और उन्हें रोजेनब्लाट सिक्यूरिटीज में जॉब मिली थी।

अमेरिका में स्टॉक एक्सचेंज के ब्रोकर्स को बैज हासिल करने के लिए सीरीज 19 नाम की कड़ी परीक्षा पास करनी होती है। लॉरेन को इसकी तैयारी के लिए सिर्फ एक महीने का समय मिला था। उन्होंने यह परीक्षा पास की और तब न्यूयॉर्क एक्सचेंज की इकलौती फुल टाइम महिला ट्रेडर बनीं।

लॉरेन दूसरी अफ्रीकन-अमेरिकन महिला ट्रेडर

लॉरेन एक्सचेंज की सबसे युवा और सिर्फ दूसरी अफ्रीकन-अमेरिकन महिला ट्रेडर हैं। हाल ही एक अन्य महिला ने बतौर फुल टाइम ट्रेडर ज्वाइन किया है। हालांकि लॉरेन एक्सचेंज की पहली फुल टाइम महिला ट्रेडर नहीं हैं। यह उपलब्धि मुरिएल सेबर्ट के पास है। सेबर्ट ने 1967 में न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज ज्वाइन किया था।

न्यूयॉर्क स्टॉक एक्सचेंज दुनिया का सबसे बड़ा स्टॉक एक्सचेंज है। इसका मार्केट कैप करीब 2,000 लाख करोड़ रुपए है। यह भारत के बीएसई से करीब 14 गुना बड़ा है।

‘जोखिम उठाने और बोल्ड बनने के लिए कहती हूं’

मीडिया की सुर्खियों में छा जाने के बाद लॉरेन को कई अंतरराष्ट्रीय आयोजनों में बतौर वक्ता बुलाया गया। अब तक वे पांच देशों में जाकर अपनी जिंदगी के पहलूओं को दुनिया के सामने साझा कर चुकी हैं।

लॉरेन कहती हैं, ‘मैं हमेशा लोगों से जोखिम उठाने और बोल्ड बनने के लिए कहती हूं। मुझे उम्मीद है कि मेरे ऊपर बनने वाली फिल्म दूसरों को लक्ष्य हासिल करने में मदद करेगी। अगर मेरी फिल्म युवा और अश्वेत महिलाओं को प्रेरित करती है तो यह मेरे लिए सम्मान की बात होगी।

मैं चाहती हूं कि मेरी तरह और भी सफलता की कहानी सामने आए। मैं चाहती हूं कि महिलाएं पुरुषों के वर्चस्व वाले क्षेत्रों में सफलता हासिल करें।’

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!