Breaking News

साइबर एक्सपर्ट द्वारा EVM को लेकर किए गए इस खुलासे से भारतीय राजनीति में आया भूचाल

लोकसभा चुनाव से ठीक पहले अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट द्वारा EVM को लेकर किए गए खुलासे से भारतीय राजनीति में भूचाल-सा आ गया है. इन दावों को सत्ताधारी दल भारतीय जनता पार्टी और चुनाव आयोग ने निराधार बताया है, जबकि कांग्रेस ने इस मसले पर जांच की मांग की है. अब इस मामले में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन (IJA) के प्रमुख आशीष रे की सफाई सामने आई है, जिसमें उन्होंने एक्सपर्ट के खुलासे और प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की मौजूदगी पर बयान दिया है.

आशीष रे का कहना है कि IJA इस प्रकार की प्रेस कॉन्फ्रेंस पहले भी आयोजित कराता रहा है. यहां सैयद शुजा द्वारा लगाए गए ईवीएम को लेकर कई आरोप चौंकाने वाले हैं, यही कारण है कि काफी लोगों को इससे परेशानी हो रही है. उन्होंने कहा कि एक्सपर्ट द्वारा जो दावे किए गए हैं, वह कई तरह के सवालों को खड़ा करते हैं ऐसे में इनकी जांच होनी चाहिए.

loading...

हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि जबतक एक्सपर्ट EVM को हैक करके नहीं दिखाता तबतक इस पर लोग विश्वास नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि हमने इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल होने के लिए चुनाव आयोग और अन्य राजनीतिक दलों को भी निमंत्रण भेजा था, लेकिन कोई भी नहीं आया.

सिब्बल की मौजूदगी पर भी दी सफाई

कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल की प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूदगी पर उन्होंने कहा कि हमने पार्टी अध्यक्षों को बुलाया था, लेकिन सिब्बल की मौजूदगी पर उन्हें लगा कि वह कांग्रेस की ओर से आए हैं. हालांकि बाद में पार्टी ने इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि कपिल सिब्बल प्रेस कॉन्फ्रेंस में सिर्फ शामिल हुए, उन्होंने कोई सवाल नहीं पूछा.

हालांकि, आशीष रे ने ये भी कहा कि साइबर एक्सपर्ट ने हमें निराश किया, क्योंकि जिस लाइव हैकिंग की बात हुई थी वह नहीं हो पाई. लेकिन ऐसा भी नहीं है कि हमें उन्हें नहीं सुनना चाहिए. आशीष रे ने इस दौरान चुनाव आयोग और उनके बीच की बातचीत को भी साझा किया.

क्या था एक्सपर्ट का दावा?

गौरतलब है कि लंदन में आयोजित हुई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में अमेरिकी साइबर एक्सपर्ट सैयद शुजा ने दावा किया था कि भारत में हुआ 2014 का लोकसभा चुनाव धांधली से भरा था. और इन चुनावों में ईवीएम में हैकिंग हुई थी, जिसके दमपर भारतीय जनता पार्टी ने प्रचंड जीत हासिल की थी.

साथ ही एक्सपर्ट ने दावा किया है कि 2015 में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में उसने आम आदमी पार्टी के लिए हैकिंग की थी. हालांकि, इन सभी दावों को भारतीय जनता पार्टी ने खारिज किया है. मंगलवार को ही केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इन आरोपों को झूठा बताते हुए कहा कि ये सब कांग्रेस प्रायोजित है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस हैकर के जरिए भारत के लोकतंत्र को बदनाम कर रही है.

वहीं, अपनी मौजूदगी को लेकर कपिल सिब्बल ने भी सफाई दी है. उन्होंने कहा है कि वह कांग्रेस पार्टी के प्रतिनिधि के रूप में नहीं, बल्कि व्यक्तिगत बुलावे पर इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में गए थे. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जो बातें साइबर एक्सपर्ट ने कही हैं, उनकी तहकीकात होनी चाहिए

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!