Breaking News

न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच मैचों की एक दिवसीय सीरीज

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर शानदार जीत के बाद आत्मविश्वास से ओतप्रोत भारतीय टीम बुधवार से न्यूजीलैंड के खिलाफ पांच मैचों की एक दिवसीय सीरीज में उतरेगी तो उसका पलड़ा भारी रहेगा. विश्व कप की तैयारियों पर अपना पूरा ध्यान केंद्रित करने वाली भारतीय टीम को अभी भी मध्यक्रम के सही संयोजन की तलाश है. आस्ट्रेलियाई सरजमीं पर पहली बार द्विपक्षीय एक दिवसीय सीरीज जीतने के बावजूद भारत की मध्यक्रम की समस्या अभी सुलझ नहीं सकी है.

महेंद्र सिंह धोनी ने लगातार तीन अर्धशतक जमाकर अपने आलोचकों को जवाब दिया है लेकिन न्यूजीलैंड के छोटे मैदानों पर ट्रेंट बोल्ट, लोकी फग्युर्सन और टिम साउदी के तेज आक्रमण का जवाब देना भारत के लिये आसान नहीं होगा. न्यूजीलैंड को उसकी सरजमीं पर हराना हमेशा कठिन रहा है और भारतीय टीम को इसका बखूबी अहसास है. भारत ने यहां 35 वनडे में से सिर्फ दस जीते हैं जबकि 2014 में हुई सीरीज में उसे 0-4 से पराजय झेलनी पड़ी.

loading...

कप्तान विराट कोहली को बखूबी इल्म है कि कीवी टीम को हराना उतना आसान नहीं होगा. उन्होंने मैच से पहले प्रेस कांफ्रेंस में कहा ,‘‘ वे दुनिया की नंबर तीन टीम है और पिछले कुछ साल से लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं. हमने भारत में उनके खिलाफ खेला और मुंबई में हार गए. सारे मैच प्रतिस्पर्धी रहे थे और मुझे लगता है कि उनकी टीम काफी संतुलित है. उनके पास ऊर्जा है और वे सही तरीके से अपना क्रिकेट खेलते आये हैं.’’

भारतीय टीम के लिये शिखर धवन का फार्म, धोनी का बल्लेबाजी क्रम और हार्दिक पंड्या की गैर मौजूदगी में सही संतुलन तलाशना बड़ी समस्या है. शीर्षक्रम पर धवन पिछले नौ मैचों में सर्वश्रेष्ठ स्कोर 35 रन बना पाये हैं. इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू सीरीज में टीम प्रबंधन ने ऋषभ पंत को उतारकर संकेत दे दिया कि वे विकल्प पर विचार कर रहे हैं. शुभमान गिल को रिजर्व सलामी बल्लेबाज के रूप में रखा गया है लेकिन कुछ नाकामियों के चलते धवन को बाहर रखना मुश्किल ही है.

चौथे नंबर पर अंबाती रायुडू बिल्कुल फार्म में नहीं है और टीम में उनका फिर यह जगह पाना मुश्किल लग रहा है. धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी वनडे में चौथे नंबर पर बल्लेबाजी की लेकिन कोहली मैच हालात के अनुरूप उनका इस्तेमाल करेंगे. नेपियर में मैच बड़े स्कोर वाला होगा जिसे देखते हुए दिनेश कार्तिक या केदार जाधव को ऊपर भेजा जा सकता है.

गेंदबाजी में भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी को तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में मोहम्मद सिराज या खलील अहमद से अधिक सहयोगी की उम्मीद होगी.न्यूजीलैंड का शीर्षक्रम मजबूत लग रहा है जिसके पास दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में से एक केन विलियमसन और रोस टेलर जैसे खतरनाक बल्लेबाज हैं. टेलर का पिछले साल कोहली के बाद सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी औसत (92) रहा है.

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, महेंद्र सिंह धोनी, केदार जाधव, दिनेश कार्तिक, विजय शंकर, शुभमान गिल, युजवेंद्र चहल, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद सिराज, खलील अहमद, रविंद्र जडेजा.

न्यूजीलैंड : केन विलियमसन (कप्तान), रोस टेलर, टाम लाथम, मार्टिन गुप्टिल, कोलिन डे ग्रांडहोमे, ट्रेंट बोल्ट, हेनरी निकोल्स, डग ब्रासवेल, लोकी फग्युर्सन, मैट हेनरी, कोलिन मुनरो, ईश सोढी, मिशेल सेंटनेर, टिम साउदी.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!