Breaking News

वाइब्रेंट समिट में राजकोट को करोड़ों का तोहफा

गुजरात के गांधीनगर में चल रही वाइब्रेंट गुजरात समिट में राजकोट में डिफेन्स के हथियारों के पार्ट्स बनाने का MOU साइन किया गया है जिसके तहत एक बड़ी कंपनी सेना के हथियारों के पार्ट्स बनाएगी। सरकार द्वारा इस कंपनी को मेटोड़ा में जमीन, पानी और बिजली जैसी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएगी। वाइब्रेंट समिट के बाद तुरंत ही कंपनी अपना प्रोजेक्ट शुरू करेगी। आपको बता दें कि मेकपावर नाम की कंपनी के द्वारा पहले से ही एविएशन और डिफेन्स के हथियारों के पार्ट्स बनाए जा रहे हैं। तब ऐसा ही एक और युनिट शुरू होने से शहर में न सिर्फ रोजगार बढ़ेगा बल्कि देशभर में राजकोट का नाम गर्व से लिया जाएगा।

एक कंपनी ने साइन किया 100 करोड़ का MOU

loading...

डिफेन्स के अलावा ऑटो पार्ट्स बनाने में भी राजकोट वैश्विक स्तर पर जाना जाता है। शहर की फाइन थ्रेड फार्म इंडस्ट्रीज नाम की एक कंपनी द्वारा इसके लिए 100 करोड़ रुपये का एमओयू किया गया है। आपको बता दें कि राजकोट के लिए लगभग 954 उद्योगों ने एमओयू किये हैं जिसमें 910 लघुउद्योग और 44 बड़े उद्योग भी शामिल हैं। इन उद्योगों में 10 करोड़ से लेकर 100 करोड़ तक के एमओयू किये हैं। इस एमओयू के अनुसार कुल 500 करोड़ का कारोबार होने की संभावना है। जिससे तकरीबन 7-8 हजार लोगों को रोजगार मिलने की पूरी संभावना जताई जा रही है।

देश-विदेश की कंपनियों से किये 131 एमओयू

राजकोट महानगर पालिका ने भी वाइब्रेंट समिट में स्मार्ट सिटी के साथ स्वच्छता के प्रोजेक्टस प्रस्तुत किये थे जिससे प्रभावित होकर देश-विदेश की कंपनियों द्वारा मनपा के साथ 131 एमओयू साइन किये जा चुके हैं। म्युनिसिपलिटी कमिश्नर बंछानिधी पानी के मुताबिक, साइन किये गए एमओयू में ज्यादातर रियल एस्टेट के कारोबार से जुड़े एमओयू हुए हैं जिसमें 80 रेसिडेंशियल, 24 कमर्शियल और 24 अन्य एमओयू हैं। इस एमओयू के मुताबिक काम होता है तो आने वाले समय में तेजी से राजकोट का विकास होगा और हजारों लोगों को रोजगार मिलना तय होने की बात भी उन्होंने बताई है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!