Breaking News

जेएनयू में देशद्रोही नारों के मामले में पुलिस ने अपना आरोप-पत्र कर दिया दाखिल

राजधानी दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में फरवरी, 2016 में देशद्रोही नारों के मामले में पुलिस ने अपना आरोप-पत्र दाखिल कर दिया है, जिसके बाद आज पटियाला हाउस न्यायालय में इस मामले की सुनवाई होने वाली है इस चार्जशीट में जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य सहित कुल 10 आरोपियों का नाम शामिल है

इससे पहले 1200 पन्नों के इस आरोप-पत्र के संज्ञान पर पटियाला हाउस न्यायालय निर्णय सुनाने वाली थी, किन्तु जज के अवकाश पर होने के कारण उस दिन सुनवाई नहीं हो पाई, इसलिए इस मामले की अगली तारिख 19 जनवरी तय की गई पुलिस द्वारा अपने आरोपपत्र में कई गवाहों के बयानों का हवाला दिया गया है, जिसमे बोला गया है कि नौ फरवरी 2016 को विश्वविद्यालय परिसर में कन्हैया प्रदर्शनकारियों के साथ थे  बड़ी संख्या में अज्ञात लोग देशविरोधी नारेबाजी कर रहे थे उल्लेखनीय है कि संसद हमले के मास्टरमाइंड अफजल गुरू को दी गई फांसी की बरसी पर विश्वविद्यालय परिसर में एक प्रोग्राम आयोजित किया गया था, जिसमे ‘अफजल हम शर्मिंदा हैं, तेरे कातिल जिन्दा हैं’ जैसे राष्ट्र विरोधी नारे लगाए गए थे

यह मामला पहले मंगलवार के लिए सूचीबद्ध था, लेकिन संबद्ध न्यायाधीश के छुट्टी पर रहने के कारण मामले की सुनवाई अगली तारीख के लिए स्थगित कर दी गई थी आरोपपत्र के अनुसार गवाहों ने यह भी बोला है कि कन्हैया घटनास्थल पर उपस्थित था जहां प्रदर्शनकारियों के हाथों में अफजल गुरु के पोस्टर थे ‘‘अंतिम रिपोर्ट में बोला गया है कि कन्हैया ने गवर्नमेंट के खिलाफ नफरत  असंतोष फ़ैलाने के लिए खुद भी राष्ट्र विरोधी नारे लगाए थे ’’

loading...
Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!