Breaking News

अंबानी, अडानी और बिरला ने की पैसों की बारिश

9वें वाइब्रेंट गुजरात शिखर सम्‍मेलन में देश के बड़े-बड़े उद्योगपतियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने राज्‍य में निवेश करने की बड़ी-बड़ी घोषणाएं की हैं। इनमें प्रमुख हैं रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी, अडानी समूह के चेयरमैन गौतम अडानी और आदित्‍य बिड़ला समूह के चेयरमैन कुमार मंगलम बिड़ला। देश के सबसे धनी व्‍यक्ति मुकेश अंबानी ने गुजरात में अगले 10 सालों में 3 लाख करोड़ रुपए का निवेश करने की प्रतिबद्धता जताई है। वहीं अरबपति गौतम अडानी ने अगले 5 साल के दौरान विभिन्‍न परियोजनाओं में 55,000 करोड़ रुपए से अधिक के निवेश की घोषणा की। कुमार मंगलम बिड़ला ने भी अगले 3 सालों में गुजरात में 15,000 करोड़ रुपए का निवेश करने का वादा किया है।

RIL करेगी 3 लाख करोड़ का निवेश

loading...

मुकेश अंबानी ने कहा कि वह ऊर्जा, पेट्रोरसायन, नई तकनीक से लेकर डिजिटल कारोबार सहित कई परियोजनाओं में यह निवेश किया जाएगा। गुजरात के जामनगर में रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड दुनिया की सबसे बड़ी रिफाइनरी चलाती है। साथ ही राज्य के विभिन्न हिस्सों में उसकी पेट्रोरसायन इकाइयां हैं। मुकेश अंबानी ने कहा कि गुजरात रिलायंस की जन्मभूमि और कर्मभूमि है। गुजरात हमेशा से हमारी पहली पसंद रहा है और रहेगा। अंबानी ने कहा कि जियो का नेटवर्क 5जी सेवाओं के लिए तैयार है। इसलिए अब उसकी दूरसंचार इकाई और खुदरा कारोबार इकाई मिलकर एक नया वाणिज्यक मंच तैयार करेगी जो छोटे खुदरा व्यापारियों, दुकानदारों और ग्राहकों को आपस में जोड़ेगा।

अडानी की 55 हजार करोड़ निवेश की घोषणा

गौतम अडानी पांच साल में गुजरात में विभिन्न परियोजनाओं में 55 हजार करोड़ रुपए से अधिक निवेश करने की घोषणा की। इनमें विश्व का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा पार्क, एक तांबा संयंत्र, एक सीमेंट इकाई और लीथियम बैटरी का एक विनिर्माण संयंत्र शामिल है। इस निवेश से राज्य में रोजगार के 50 हजार से अधिक प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष अवसर सृजित होंगे।

अडाणी ने ने कहा कि उनके समूह ने गुजरात में पिछले पांच साल में 50 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया है और आने वाले समय में निवेश को बढ़ाया जाएगा। अडानी समूह ने गुरुवार को 16 हजार करोड़ रुपए के निवेश से पेट्रो रसायन कारोबार में उतरने की घोषणा की थी।

आदित्‍य बिड़ला ग्रुप करेगा 15,000 करोड़ निवेश

कुमार मंगलम बिड़ला ने कहा कि वह गुजरात में अपनी क्षमता विस्‍तार और नई इकाई की स्‍थापना पर अगले तीन सालों में 15,000 करोड़ रुपए का नया निवेश करेंगे। यह निवेश टेक्‍सटाइल, केमीकल, माइनिंग और मिनरल्‍स जैसे क्षेत्रों में होगा। बिड़ला ने कहा कि उनका समूह अब तक राज्‍य में 30,000 करोड़ रुपए से अधिक का निवेश कर चुका है और यह आगे भी जारी रहेगा। उन्‍होंने कहा कि उनकी योजना विलायत स्थित ग्रासिम विस्‍कोस स्‍टेपल फाइबर प्‍लांट और वेरावल स्थित इंडियन रेयोन विस्‍कोस फ‍िलामेंट यार्न प्‍लांट की क्षमता बढ़ाने की है, जिसपर 75,00 करोड़ रुपए का खर्च आएगा।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!