Breaking News

थाने से महज 100 कदम की दूरी पर हुआ लाइव मर्डर, शूटरों ने मारी 5 गोली

शहर के नामी बिल्डर संदीप अग्रवाल की बुधवार शाम को गोली मारकर हत्या कर दी गई है। वारदात को तीन शॉर्प शूटरों ने अंजाम दिया है। फिलहाल हत्या की वजह सामने नहीं आई है। ना ही शॉप शूटरों का कोई सुराग लग पाई है। खास बात यह है कि पुलिस थाने से महज 100 कदम की दूरी पर हुआ यह मर्डर CCTV कैमरे में कैद हो गया है। जिसके आधार पर पुलिस ने शूटरों की तलाश शुरू कर दी है।

इंदौर डीआईजी हरिनारायण चारी ने बताया कि शाम करीब सात बजे बिल्डर संदीप अग्रवाल क्रोस रॉड स्थित अपने ऑफिस की सीढ़ियों से उतरकर मोबाइल चैक करते हुए नीचे कार में बैठने के लिए जा रहा था। इसी दौरान उसकी कार के पास पहले से दो अज्ञात बदमाश खड़े थे।

loading...

संदीप कार के पास पहुंचा। दरवाजा खोलकर अंदर बैठता उससे पहले बदमाशों ने उस पर गोलियां चलानी शुरू कर दी। बदमाश उसके पांच गोलियां मारकर लोगों के बीच से ही चले गए, मगर किसी को तत्काल पता ही नहीं चला था। बाद में कार के पास लहूलुहान पड़े संदीप को देख माजरा समझ में आया और फिर सीसीटीवी में यह लाइव मर्डर देख तो लोगों की आंखें की फटी रह गई।

कुछ देर बाद वापस आकर मारी गोली

गोलियां लगने पर संदीप कार के पास नीच सड़क पर गिर गया। इसके बाद बदमाश हवा में बंदूक लहराते हुए वहां से सड़क की दूसरी तरफ चले गए। संदीप जिंदा ना बच जाए। इसके लिए कुछ ही सैंकड बाद एक बदमाश वापस संदीप के पास आया और उसे फिर से गोली मारकर गया। बीच सड़क पर बिल्डर को गोली मारने की इस घटना से आस-पास के लोगों में दहशत फैल गई।

बॉम्बे अस्पताल में तोड़ा दम

बदमाशों के वहां से चले जाने के बाद आस-पास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। फिर गंभीर रूप से घायल संदीप को इंदौर के बॉम्बे अस्पताल में ले जाया गया। जहां उपचार के दौरान रात को उसकी मौत हो गई। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया।

पांच गोली लगी संदीप को

पुलिस के अनुसार बिल्डर संदीप को पांच गोलियां लगी हैं। इनमें से दो गोली संवेदनशील जगह पर लगी है। सीसीटीवी फुटेज में नजर आ रहे बदमाशों ने संदीप को बेहद नजदीक से गोली मारी थी। बदमाशों ने संभवतया साइलेंसर लगाकर फायर किया था तभी घटनास्थल पर पास ही खड़े लोगों को गोली चलने की आवाज तक सुनाई नहीं दी

ये हो सकती है Indore Murder की वजह

संदीप अग्रवाल इंदौर के नामी कारोबारियों में से एक था। शहर के कई रसूखदारों से उसका केबल नेटवर्क व प्रोपर्टी आदि को लेकर विवाद चल रहा था। डीआईजी हरिनारायण चारी मिश्र का कहना है ​कि फिलहाल मर्डर की कोई वजह सामने नहीं आई हैं। परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर मामले में हर पहलू से पड़ताल की जा रही है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!