Breaking News

धूप सेंकने से दूर होगा ब्रैस्ट कैंसर

टोरंटो में हाल ही में हुई एक स्टडी के मुताबिक, जो महिलाएं दिनभर में तीन घंटे धूप में बैठती हैं, उनमें ब्रैस्ट कैंसर होने का खतरा आधा हो जाता है। गौरतलब है कि सनशाइन विटामिंस कैंसर से बचाने में महिलाओं की मदद करते हैं। इस स्टडी में यह भी कहा गया है कि नवंबर से फरवरी तक रोज न सही, लेकिन हफ्ते में 19 घंटे भी आप धूप में बैठ जाते हैं, तो कई तकलीफों से दूर रह सकते हैं।

एंटी कैंसर प्रॉपर्टीज 
एंड्रोक्राइनोलॉजिस्ट डा. अजय मेहरा कहते हैं कि धूप बॉडी के लिए बेहद जरूरी है। दरअसल, हम 10 प्रतिशत विटामिन डी तो फैटी फिश, अंडे और दूध से ले लेते हैं, लेकिन 90} हमें सूरज की रोशनी से मिलता है, जो फूड से भी ज्यादा जरूरी है। लैबरेटरी टैस्ट के मुताबिक, ब्रैस्ट सैल्स में विटामिन डी को हार्मोन में तबदील करने की क्षमता होती है, जो एंटी कैंसर प्रॉपर्टीज बनाते हैं। दरअसल, एक हैल्दी वूमैन में 3,471 ब्रेस्ट कैंसर विटामिंस होने जरूरी हैं। यह संख्या अगर 2 हजार से नीचे चली जाती है, तो कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। मसलन अगर आप 20 से 30 साल की हैं, तो आपको हफ्ते में 21 घंटे धूप की जरूरत पड़ती है। बता दें कि इस समय रिस्क फैक्टर सबसे ज्यादा होता है। 30 से 40 के दौरान रिस्क 36} कम हो जाता है और जब कोई महिला 50 से 60 की उम्र में पहुंच जाती है, तो ब्रैस्ट कैंसर होने के चांस 60} कम हो जाते हैं।

loading...

डायबीटीज पर कंट्रोल 
धूप की कमी से लाखों लोगों के टाइप 2 डायबिटीज की चपेट में आने का रिस्क है। गौरतलब है कि रिसर्च टीम ने 5,200 लोगों के ब्लड की जांच की। उन्होंने पाया कि ब्लड में विटामिन डी के अलावा, 30 नैनोमोल्स होने से डायबीटीज की चपेट में आने का रिस्क 24} तक घट जाता है। इस स्टडी में रिसर्चर डा. केन सिकरिस कहते हैं कि जिनके शरीर में विटामिन डी के नैनोमोल्स की संख्या प्रति लीटर 50 से कम होती है, उन्हें डायबीटीज का खतरा होता है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!