Breaking News

इंडिया पांड्या और लोकेश राहुल के मैदान के बाहर की गतिविधियों के कारण सुर्खियों में

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या के टीवी शो पर महिलओं को लेकर की गयी विवादित टिप्पणी के मामले में प्रतिबंध लगने की संभावनाओं के बीच शुक्रवार को कहा कि वह इसे लेकर ज्यादा चिंतित नहीं है, क्योंकि टीम के पास रविन्द्र जडेजा के रूप में विकल्प मौजूद है. ऑस्ट्रेलिया में पहली बार टेस्ट सीरीज में जीत से उत्साहित टीम इंडिया पांड्या और लोकेश राहुल के मैदान के बाहर की गतिविधियों के कारण सुर्खियों में है. दोनों ने एक टीवी शो में महिलाओं पर विवादित टिप्पणी की जिससे उन पर दो मैचों के निलंबन का खतरा मंडरा रहा है.

कोहली ने शनिवार को खेले जाने वाले सिडनी वनडे से पहले कहा, ‘‘भारत में हम वेस्टइंडीज के खिलाफ एक अंगुली के स्पिनर और एक कलाई के स्पिनर के साथ खेले थे. हमारे लिए यह अच्छा है कि जडेजा की तरह का खिलाड़ी मौजूद है जो ऐसी स्थिति (पांड्या पर प्रतिबंध लगने से) में हरफनमौला की भूमिका निभा सकता है. हम एक टीम के तौर पर ज्यादा चिंतित नहीं है क्योंकि आपको हमेशा टीम में संतुलन बनाने की स्थिति का सामना करना पड़ेगा. हम ऐसे खिलाड़ियों को टीम में रखते हैं जो जरूरत पड़ने पर बल्ले और गेंद से योगदान देने के मामले में दूसरे की जगह ले सके.’’

loading...

कोहली ने कहा कि वह टीम के मौजूदा संयोजन से खुश हैं और 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले वनडे वर्ल्ड कप के लिए टीम में ज्यादा बदलाव की गुंजाइश नहीं है. भारतीय कप्तान ने कहा, ‘‘विश्व कप से पहले हमारे पास अब ज्यादा मैच नहीं बचे हैं इसलिए हम लगभग उसी टीम के साथ खेलना चाहते हैं जो कमोबेश विश्व कप में खेले. जसप्रीत बुमराह का मामला अलग है. उन्हें टेस्ट मैच के भार को देखते हुए विश्राम दिया गया है. उनके अलावा मुझे नहीं लगता कि हम टीम संयोजन के बारे में ज्यादा विचार करेंगे.’’

हालांकि कोहली ने कहा कि टीम में कुछ जगहों के लिए फार्म और फिटनेस देखने के बाद फैसला किया जाएगा. उन्होंने कहा, ‘‘टीम में एक-दो ऐसे स्थान हैं जहां आपको बदलाव करना पड़ सकता है लेकिन इसके अलावा हम विश्व कप से पहले इसी संयोजन के साथ खेलना चाहते हैं.’’

पांड्या और राहुल तीन मैचों की सीरीज के शुरूआती मैचों के लिए शायद उपलब्ध नहीं रहेंगे जिस पर कोहली ने कहा कि इससे उन्हें तेज गेंदबाजों के साथ प्रयोग करने का मौका मिलेगा. उन्होंने कहा, ‘‘भुवनेश्वर कुमार की वापसी हुई है. वह टेस्ट सीरीज के दौरान कड़ी मेहनत कर रहे थे. खलील अहमद को जो मौके मिले हैं उसने उसमें अच्छा प्रदर्शन किया है. मोहम्मद शमी के पास नयी गेंद से विकेट लेने की काबिलियत है. उनके पास खुद को टीम में स्थापित करने का मौका होगा.’’

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!