Breaking News

छत्तीसगढ़ सीएम भूपेश बघेल का बीजेपी पर पलटवार

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह और उनकी पिछली सरकार पर निशाना साधा है। भूपेश बघेल ने ट्वीट करके कहा, “डॉ साहेब से न तो गौ संभली और न गवर्नेंस। अभी तो हमने पिछले सरकार की फाइलों से थोड़ी धूल ही झाड़ी है और चीख-पुकार शुरू गई। यह ‘बदलाव-पुर’ है। यहां सबके साथ न्याय होगा। चाहे वो जंगलों में काम करने वाले आदिवासी हों या राजधानी के दफ्तर में बैठकर काम करने वाला कोई अधिकारी।” इतना ही नहीं विधानसभा सत्र के तीसरे दिन मुख्यमंत्री ने प्रमुख विपक्षी दल बीजेपी को जमकर आड़े हाथों लिया।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निशाने पर पूर्व सीएम रमन सिंह

loading...

छत्तीसगढ़ विधानसभा में अनुपूरक बजट पर चर्चा के दौरान के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि मैं विपक्षी पार्टी बीजेपी के सदस्यों की बात को गंभीरता से सुन रहा था। मुझे लगा था कि वो कुछ पश्चाताप में होंगे, लेकिन इनके अंदाज पहले जैसे ही हैं। रमन सिंह उसी तेवर में बात कर रहे थे। इस दौरान भूपेश बघेल ने नान घोटाले में एसआईटी गठन का जिक्र किए बिना ही बीजेपी पर पलटवार किया। उन्होने कहा, “अभी तो हमने आपकी फाइल खोली है। बहुत धूल जमी है। थोड़ी सी धूल हटाई है और खूब चीख पुकार शुरू हो गई।

ट्वीट के जरिए दिया जवाब

दरअसल भूपेश बघेल ने ये बातें इसलिए कही क्योंकि पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह ने नान घोटाले में एसआईटी गठन को ‘बदलापुर की कार्रवाई’ का नाम दिया था। इसी के जवाब में भूपेश बघेल ने ट्वीट किया, “डॉ साहेब से न तो गौ संभली और न गवर्नेंस। अभी तो हमने पिछले सरकार की फाइलों से थोड़ी धूल ही झाड़ी है और चीख-पुकार शुरू गई। यह ‘बदलाव-पुर’ है। यहां सबके साथ न्याय होगा। चाहे वो जंगलों में काम करने वाले आदिवासी हों या राजधानी के दफ्तर में बैठकर काम करने वाला कोई अधिकारी।”विधानसभा में विपक्ष पर जमकर बरसे सीएम

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आगे कहा कि हम कोई जुमलेबाज नहीं हैं। जुमलेबाजी आपके नेता करते हैं। हम किसानों, गरीबों के लिए काम करने आए हैं। खदानों का स्टाम्प ड्यूटी माफ करने नहीं आए हैं। हमने कहा था कि सरकार बनने के दस दिन के अंदर कर्जमाफी करेंगे। हमने जैसा कहा वैसा ही किया है। हमने दस दिनों के भीतर कर्जमाफी की है। शराबबंदी के मुद्दे पर पूछे जा रहे सवालों पर उन्होंने कहा कि हम शराबबंदी करेंगे लेकिन सबको विश्वास में लेकर।

भूपेश बघेल बोले- हमने जैसा कहा वैसा ही किया

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के तीसरे अनुपूरक बजट को ऐतिहासिक बताते हुए कहा कि तृतीय अनुपूरक बजट मिलाकर हम एक लाख करोड़ से ज्यादा के बजट पर गए हैं। इस बार बजट 1 लाख 5 हजार 170 करोड़ का हो गया है। उन्होंने धान खरीद के मुद्दे पर भी विपक्ष को घेरते हुए कहा कि हमने पद संभालने के बाद किसानों को धान 2500 रुपये प्रति क्विंटल में खरीदने के फैसला लिया है। आपने 2100 रुपये में एक पाव धान नहीं खरीदा, हम 2500 रुपये प्रति क्विंटल में धान खरीदने वाली देश में पहली सरकार हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!