Breaking News

दुनिया की सबसे ज्यादा उम्र की महिला जीनी कैलमेंट का 122 वर्ष की उम्र में हुआ निधन

दुनिया की सबसे ज्यादा उम्र की महिला जीनी कैलमेंट का 1997 में निधन हो गया था। 122 वर्ष की उम्र में कैलमेंट का निधन हो गया था, जिसके बाद उनका नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में शामिल किया गया था। लेकिन अब इस मामले में नया खुलासा हुआ है। रूस के गणितज्ञ ने इसे लेकर सवाल खड़ा किया है। मास्को के गणितक्ष निकोले जैक ने महिला के दावे पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि कैलमेंट का का असली नाम येनी कैलमेंट था और उन्होंने अपनी उम्र को लेकर गलत जानकारी दी थी।

जीन कैलमेंट की 1997 में 122 साल 164 दिन की उम्र में मौत हो गई थी। जिसके बाद उनका नाम गिनीज बुक में रिकॉर्ड हो गया था। लेकिन रूस के वैज्ञानिक ने दावा किया है कि झूठ के दम पर यह रिकॉर्ड बना है। रूसी गणितज्ञ निकोलई जैक ने गेरेंटोलॉजिस्ट वर्ले नोवोसेलोव के साथ मिलकर कई महीनों तक कैलमेंट की बायोग्राफी, साक्षात्कार, फोटो, गवाह आदि का अध्ययन करके यह दावा किया है। इस शोध में कहा गया है कि कैलमेंटकी बेटी ने अपनी मां की पहचान को जीना शुरू कर दिया था। उत्तराधिकार टैक्स से बचने के लिए कैलमेंट ने अपनी मां की पहचान को अपना लिया था।

loading...

अगर रूस के शोधकर्ताओं के शोध की मानें तो महिला की मौत 99 वर्ष की उम्र में हो गई थी। शोधकर्ता जैक का कहना है कि बहुस सारे विरोधाभास सामने निकलकर आए हैं। कैलमेंट के जीवन पर आधारित किताब इंश्योरेंस ऐंड इट्स सीक्रेट में एक जिक्र आता है जिसमे कहा गया कैलमेंट ने अपनी बेटी की पहचान को अपना लिया था। कैलमेंट की आंखों के रंग और लंबाई में फर्क है। हालांकि इस पूरे शोध को गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड के अधिकारी ने खारिज कर दिया है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!