Breaking News

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनते ही पार्टी नेताओं के बदल गए तेवर

राजस्थान में कांग्रेस की सरकार बनते ही पार्टी नेताओं के तेवर बदल गए हैं। कई नेताओं के तो सत्ता का नशा सिर चढ़कर बोलने भी लगा है। ताजा मामला अजमेर का है।

हुआ यूं कि अजमेर के बजरंगगढ़ चौराहे स्थित मॉल के बाहर अवैध रूप से पार्क किए गए वाहनों के खिलाफ यातायात पुलिस कार्रवाई कर रही थी। इसी दौरान वहां सौरभ बजाड़ भी पहुंच गए। सौरभ बजाड़ कांग्रेस के नेता और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के संयुक्त सचिव के भाई बताए जाते हैं।

loading...

सौरभ बजाड़ ने यातायात पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया। पुलिसकर्मियों ने काफी समझाइश की, मगर वे नहीं माने।आरोप ये भी हैं कि उन्होंने यातायात एएसपी नीलम चौधरी तक से बदतमीजी कर डाली। सौरभ बजाड़ ने पुलिसकर्मियों को भी जमकर भरा-बुरा कहा। वे यहां तक ही नहीं रुके बल्कि सड़क के बीचोंबीच लेटकर नाटक करते रहे। इससे यातायात जाम हो गया। एएसपी नीमल चौधरी की मानें तो बजाड़ शराब के नशे में धुत था।

Ajmer एडिशनल एसपी नीलम चौधरी का कहना है कि यहां मॉल के बाहर पार्किंग व्यवस्था उचित नहीं होने के कारण रोजाना जाम के हालात हो जाते हैं। इस संबंध में गत दिनों आईजी बीजू जॉर्ज जोसफ ने भी कार्रवाई करने के आदेश दिए थे।

इस पर वे टीआई सुनिता गुर्जर व अन्य पुलिसकर्मियों के साथ वहां पहुंची और कार्रवाई करने लगीं। कुछ समय बाद कांग्रेसी नेता व मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव गौरव बजाड़ के भाई सौरभ बजाड़ वहां आए और गाली-गलौच करने लगे। जब उन्हें समझाना चाहा तो वे अपने भाई गौरव बजाड़ और सरकार का रौब दिखाते हुए उनके साथ भी बदसलूकी करने लगे।

मामला बढ़ता देख एएसपी ने क्रिश्चयनगंज थानाधिकारी को फोन करके जाप्ता भेजने और सौरभ बजाड़ का मेडिकल मुआयना करवाने की बात कही, लेकिन काफी समय तक जाप्ता नहीं भेजा और बजाड़ ड्रामा करके वहां से निकल गया। एएसपी ने कहा कि इस मामले में उन्होंने रपट डलवा दी है और जल्द ही बजाड़ के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाएंगे।

एएसपी नीलम चौधरी ने दावा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के संयुक्त सचिव गौरव बजाड़ का उनके पास फोन आया और उन्होंने इस घटना के लिए अफसोस जताया। वहीं, सौरभ बजाड़ ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सभी पुलिसवाले पैसे खाते हैं। एसपी राजेश सिंह ने साजिश के तहत यहां कार्रवाई करके उनकी इज्जत के साथ खिलवाड़ किया है। वे इस मामले को सीएमओ तक लेकर जाएंगे।

मामले में एसपी राजेश सिंह ने कहा कि वे किसी सौरभ बजाड़ को नहीं जानते हैं। वह उनके स्तर का व्यक्ति भी नहीं है। Traffic Police की टीम अपना काम करने गई थी। एडिशनल एसपी से बदसलूकी की रिपोर्ट मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!