Breaking News

यागराज कुंभ मेले की तैयारियों के बीच आतंकियों के घूमने की सूचना पर हड़कंप

यागराज कुंभ मेले की तैयारियों के बीच पुलिस और खुफिया एजेंसियों में उस वक्त हड़कंप मच गया जब उन्हें एक युवक ने मेला क्षेत्र में आतंकी आ घुसने की सूचना दी। युवक ने कंट्रोल रूम पर फोन कर कहा कि उसने संदिग्ध लोगों को मेला क्षेत्र में घूमते हुए देखा है, जो कि आतंकी हो सकते हैं। जिसके बाद गुरुवार शाम पुलिस ने चौकसी बढ़ा दी। फोन करने वाले उस युवक की लोकेशन ट्रेस की और सिपाही उक्त स्थान पर जा पहुंचे। वह लोकेशन तो सही निकली, मगर वहां आतंकी नहीं मिले।


आतं​कियों के घूमने की बात कह फोन कर लिया स्विच ऑफ
वहीं, युवक से पुलिस ने दुबारा बात की तो उसने कहा कि वह इस वक्त काफी दूर चला आया है और अगर उसे फिर से वह संदिग्ध लोग दिखाई पड़े तो पुलिस को सूचना देगा। हालांकि इसके बाद युवक ने फोन काट दिया और मोबाइल स्विच ऑफ हो जाने के कारण उससे दोबारा बात नहीं हो सकी। पुलिस का कहना है कि उक्त युवक ने खुद को नाम महात्मा बताया था। उसने कहा कि वह मेला क्षेत्र में रुका हुआ है।

loading...

सर्विलांस पर लगाया गया नंबर
कंट्रोल रूम पर मौजूद सिपाहियों ने संदिग्ध लोगों के बारे में जानकारी देने वाले युवक के मोबाइल नंबर को सर्विलांस पर लगाया गया है और तथाकथित महात्मा की तलाश की जा रही है। फिलहाल मोबाइल स्विच ऑफ होने के कारण युवक तक अभी पुलिस नहीं पहुंच सकी है। हालांकि, मेला क्षेत्र में पुलिस चौकसी और बढ़ा दी गई है, साथ ही तीसरी आंख से निगेबानी व संदिग्ध लोगों पर नजर रखने के लिए स्पेशल यूनिट को अलर्ट कर दिया गया है। फिलहाल संभावना व्यक्त की जा रही है कि किसी सनकी द्वारा गलत सूचना पुलिस कंट्रोल रूम को दी गई है। हालांकि सूचना को लेकर पूरी सतर्कता बरती जा रही है।

PHOTOS: जमीं पर ही नहीं हवा और पानी में​ दिखेंगे प्रयाग-कुंभ के रंग, तैयार हुईं ऐसी लाजवाब पेंटिंग्स

खुफिया एजेंसी कर चुकी है अलर्ट
कुंभ मेले में आतंकी संगठनों की नजर है और खुफिया एजेंसियों ने इस बाबत अलर्ट भी जारी कर दिया गया है। सुरक्षा एजेंसियों को जो इनपुट मिला है उसके अनुसार आतंकी कुंभ मेले में साधु संत के वेशभूषा में आने का प्रयास कर सकते हैं। खुफिया एजेंसियों ने हिजबुल मुजाहिद्दीन समेत कुछ आतंकी संगठनों की सक्रियता सोशल मीडिया के जरिए उत्तर प्रदेश में देखी है और इसे खतरे की घंटी मानकर ही अलर्ट जारी किया गया है।

कई स्तर पर चेकिंग की व्यवस्था
यही कारण है कि पुलिस कंट्रोल रूम में सूचना पहुंचते ही हड़कंप मच गया और संदिग्ध लोगों की तलाश की जाने लगी। फिलहाल इस बार कुंभ मेले में प्रवेश से पहले ही संदिग्धों पर नजर रखने व कई स्तर पर चेकिंग की व्यवस्था की जा गयी है और कुंभ मेला में किसी भी संदिग्ध का घुसना लगभग नामुमकिन बनाया जाएगा, इसके लिए स्पेशल फोर्सेस की यूनिट कई चरणों में सुरक्षा व्यवस्था तैयार करेगी।

सर्वोच्च स्तर सुरक्षा व्यवस्था
कुंभ मेले की सुरक्षा इस बार सर्वोच्च स्तर की होगी। यहां की सुरक्षा कई चरणों की होगी, जिसमें अलग-अलग स्तर से सुरक्षा का एक चक्रव्यूह तैयार किया जाएगा। जिसे भेद पाना किसी के लिए भी नामुमकिन होगा। इसके लिए खुफिया एजेंसियों के साथ ब्लैक कमांडो, आतंकवाद निरोधक दस्ता, स्पेशल कमांडोज, एटीएस की स्पेशल टीमें, सर्विलांस यूनिट, बम डिटेक्शन एवं एंड डिस्पोजल की टीम, एनआईए की टीम, सीआईएसफ, सीआरपीएफ, आरएएफ, सेना का दस्ता, पीएसी, पुलिस, होमगार्ड आदि से कुंभ मेले को एक अवैध किला बनाया जाएगा।

खुफिया एजेंसियां भी अलर्ट
एडीजी प्रयागराज जोन एस. एन. साबत ने बताया कि कुंभ मेले की सुरक्षा सर्वोच्च स्तर की होगी और लगातार संदिग्धों की जानकारी पूरी तरह जुटाई जा रही है। खुफिया सुरक्षा एजेंसी की टीमें भी अलग से अपना काम कर रही हैं। कुंभ मेले की सुरक्षा अब तक की सर्वोच्च सुरक्षा स्तर का नमूना होगा।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!