Breaking News

तेजप्रताप यादव जान को खतरा, नीतीश कुमार से की अपनी सुरक्षा बढ़ाने की मांग

बिहार के पूर्व मंत्री और आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक लेने की अर्जी दाखिल करने और वृंदावन से लौटने के बाद तेजप्रताप इन दिनों बिहार की सियासत में बिजी हैं। उनके जनता दरबार हर रोज मीडिया की सुर्खियां बन रहे हैं। इस बीच तेजप्रताप यादव ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपनी सुरक्षा बढ़ाने की मांग की है। तेजप्रताप ने एक बड़ी वजह बताते हुए सीएम नीतीश कुमार से कहा है कि एक समय के बाद बॉडीगार्ड्स भी काफी नहीं होते हैं, इसलिए उनकी सुरक्षा और बढ़ाई जाए।

‘एक वक्त पर बॉडीगार्ड्स भी काफी नहीं होते’
तेजप्रताप यादव ने बुधवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘बिहार में कानून व्यवस्था की हालत लगातार बिगड़ रही है। बदमाशों में कानून का डर खत्म हो चुका है। हर रोज किसी ना किसी का मर्डर हो रहा है। राज्य में कोई भी किसी को भी मार सकता है। हालत ये हो गई है कि इन दिनों सड़क पर चलने से डर लगता है। एक समय के बाद बॉडीगार्ड्स भी काफी नहीं होते हैं। ऐसे हालात में मेरी जान को भी खतरा है। मैं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपील करता हूं कि मेरी सुरक्षा बढ़ाई जाए।’

loading...

नीतीश से क्या क्या मांग कर चुके हैं तेजप्रताप

आपको बता दें कि हाल ही में तेजप्रताप यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से अपने लिए जल्द बंगले की व्यवस्था करने की भी मांग की थी। दरअसल बिहार सरकार ने उन्हें मकान आवंटित कर दिया है, लेकिन घर मिलने में हो रही देरी के चलते उन्होंने नीतीश कुमार को फोन किया। तेजप्रताप ने नीतीश से फोन करके पूछा कि क्या उन्हें घर नहीं मिलेगा? तेजप्रताप को विधायक और पूर्व मंत्री होने के आधार पर बंगले का आवंटन हुआ है। 7एम स्ट्रैंड का जो बंगला तेजप्रताप को मिला है, उसमें नीतीश कुमार भी मुख्यमंत्री पद से हटने के बाद रह चुके हैं।

सुर्खियों में तेजप्रताप के जनता दरबार

गौरतलब है कि वृंदावन से लौटने के बाद बिहार की सियासत में फिर से सक्रिय हुए तेजप्रताप यादव इन दिनों जनता दरबार लगाकर लोगों की समस्याएं भी सुन रहे हैं। तेजप्रताप के इस नए रूप को देखकर उनकी पार्टी के नेता भी हैरान हैं। हालांकि अपनी पत्नी ऐश्वर्या से तलाक लेने के मामले को लेकर तेजप्रताप यादव आज भी अपने रुख पर कायम हैं। पिछले दिनों वो आरजेडी कार्यालय पहुंचे और पार्टी कार्यकर्ताओं से भी मिले। तेजप्रताप यादव की सक्रियता को देखकर उनके भाई तेजस्वी यादव और पार्टी के वरिष्ठ नेता भी हैरान हैं। हाल ही में तेजप्रताप यादव ने मीडिया के सामने बयान भी दिया था कि वो पार्टी में किसी भी भूमिका के लिए तैयार हैं। हालांकि तेजप्रताप ने यह भी कहा कि जनता दरबार के जरिए वो लोगों की समस्याएं सुन रहे हैं और तेजस्वी यादव को बिहार का अगला मुख्यमंत्री बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!