Breaking News

मस्‍ती में थक गए हैं पैरों को इस तरह से दे आराम

न्‍यू ईयर की मस्‍ती और पार्टी की थकान अगले दिन पैरों में दर्द के रूप में महसूस होती है। असल में पार्टी में मस्‍ती करते हुए हमें यह अंदाजा ही नहीं रहता है कि हम एक साथ पैरों के साथ कितना अधिक वर्कआउट कर जाते हैं। अगर आपके पैर भी हैं थकान से बेहाल तो इन घरेलू उपायों से पाएं थकान से निजात।

हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी

loading...

हॉट एंड कोल्‍ड वॉटर थेरेपी पैर में दर्द के इलाज के लिए एक कारगर तरीका है। हॉट वॉटर ट्रीटमेंट ब्‍लड फ्लों को बढ़ावा देने और कोल्‍ड ट्रीटमेंट सूजन को कम करने में मदद करता है। दो पानी की बाल्‍टी लें एक में ठंडा पानी और दूसरें में सहने करने योग्‍य गर्म पानी डालें। अपने पैरों को तीन मिनट गर्म पानी की बाल्‍टी में डालें और तीन मिनट के बाद अपने पैरों को 10 सेकंड के लिए ठंडे पानी की बाल्‍टी में डालें। इस प्रक्रिया को 2-3 बार दोहराये। लेकिन ध्‍यान रहें कि आप गर्म पानी से शुरूआत और ठंडे पानी पर समाप्‍त करें। आप पैरों में दर्द को कम करने के लिए 10 मिनट के लिए बारी-बारी गर्म और ठंडा पैक भी लगा सकते हैं।

सिरका

सिरका, सूजन, मोच या ऐंठन के कारण होने वाले पैरों में दर्द का कारगर इलाज है। गर्म पानी की एक बाल्‍टी में दोब बड़े चम्‍मच सिरके और एक छोटा चम्‍मच नमक या सेंधा नमक मिलाये। फिर इसमें अपने पैरों को लगभग 20 मिनट के लिए डूबों दें।

सेंधा नमक

सेंधा नमक एक और प्रभावी घरेलू उपाय है, जो पैरों के दर्द से तत्‍काल राहत प्रदान करने में मदद करता है। गर्म पानी के एक टब में 2-3 बड़े चम्‍मच सेंधा नमक के मिलाकर, इसमें अपने पैरों को 10 से 15 मिनट के लिए डालें। फिर अपने पैरों को ड्राईनेस से बचाने के लिए उनपर मॉश्‍चराइजर लगाये।

बर्फ

आइस थेरेपी भी दर्द और पैरों की सूजन को कम करने का एक प्रभावी तरीका है। एक छोटे से प्लास्टिक की थैली में कुचले बर्फ के कुछ टुकड़े डाले और दर्द को दूर करने के लिए सर्कुलर मोशन में प्रभावित हिस्‍से की मालिश के लिए उपयोग करें। इससे सूजन को कम करने में भी मदद मिलेगी। लेकिन ध्‍यान रखें कि आइस पैक का उपयोग एक समय में 10 मिनट से अधिक तक न करें क्‍योंकि यह त्वचा और नसों को नुकसान पहुंचा सकता है। सर्दियों में इस थेरेपी का इस्‍तेमाल सोच समझकर ही करें।

लौंग का तेल

लौंग का तेल सिरदर्द, जोड़ों के दर्द, एथलीट फुट, नेल फंगस और पैरों के दर्द को दूर करने वाला एक अद्भुत तेल है। तुरंत राहत पाने के लिए लौंग के तेल का इस्‍तेमाल पैरों में धीरे-धीरे मालिश करने के लिए करें। मसाज रक्‍त के प्रवाह को उत्‍तेजित करता है और मांसपेशियों को आराम देता है। पैरों में दर्द की समस्‍य से जल्‍द राहत पाने के लिए एक दिन में कई बार मालिश करें।

तेजपात

अगर आपको दबाव, मोच या चोट के कारण पैरों में दर्द का अनुभव हो रहा हैं, तो आप परेशानी से राहत पाने के लिए तेजपात का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। इसके अलावा यह पैरों की दुर्गंध को दूर करने में मदद करता है। एक कप सेब के सिरके में एक मुट्ठी तेजपात मिलाकर कुछ मिनट के लिए उबाल लें। अब सूती कपड़े की मदद से दर्द वाले हिस्‍से पर लगाये। पैर में दर्द ठीक होने तक इस उपाय को दनि में कई बार दोहराये।

सरसों के बीज

सरसों के बीज का इस्‍तेमाल शरीर से विषाक्त पानी निकालने, रक्त परिसंचरण में सुधार करने और सूजन को कम करके पैर में दर्द के उपचार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। कुछ सरसों के बीज लेकर, पीस लें और फिर इन्‍हें गर्म पानी की एक बाल्टी में मिलाये। अपने पैरों को इस पानी में 10 से 15 मिनट के लिए डालें।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!