Breaking News

सायरा बानो दिलीप कुमार का बनवाना चाहती हैं म्यूज़ियम v

सायरा ने अपने पति दिलीप कुमार के बंगले को लेकर चल रहे प्रॉपर्टी विवाद में उनसे मदद की गुजारिश की थी, हालांकि प्रधानमंत्री 18 दिसंबर को मुंबई में थे लेकिन सायरा बानो की उनसे मुलाकात नहीं हुई.

वयोवृद्ध अभिनेता दिलीप कुमार का मुंबई के घर को लेकर पिछले 10 बरसों से चल रहा विवाद अब और भी ज्यादा गहरा गया है. क्योंकि सायरा बानो ने बिल्डर समीर भोजवानी की शिकायत महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस के साथ, पीएम नरेंद्र मोदी से की है.

loading...

मुंबई पुलिस के प्रवक्ता मंजूनाथ सिंगे ने पत्रकारों को बताया कि “इस मामले को जल्दी और कानून के मुताबिक निबटाया जाएगा. हमने अपनी तरफ़ से पूरा सहयोग देने का आश्वासन दिया है.”

यूँ आए दिन हजारों लोग अपने प्रॉपर्टी या अन्य झगड़ों को लेकर अपने राज्य के मुख्यमंत्री सहित देश के गृहमंत्री और प्रधानमंत्री से मदद की गुहार लगाते रहते हैं. लेकिन मामला जब दादा साहब फाल्के अवार्ड से सम्मानित और लोकप्रिय अभिनेता 96 वर्षीय दिलीप कुमार का हो तो बात सुर्ख़ियों में आ ही जाती है.

दिलीप कुमार पिछले करीब 10 बरसों से अपनी खराब तबीयत के कारण खुद इस तरह के मामलों को हल करने की स्थिति में नहीं हैं इसलिए उनकी पत्नी सायरा उनकी जगह खुद ट्वीट करके इस लड़ाई को लड़ रही हैं.

सायरा बानो इस मामले में क्या कहती हैं और क्या है उनका दर्द. इस पर उनसे हुई एक ख़ास बातचीत.

दिलीप साहब के बंगले को लेकर आपका विवाद तो पिछले दस साल से चल रहा है लेकिन अब ऐसा क्या हुआ कि आपको इस सबको लेकर प्रधानमंत्री मोदी तक को ट्वीट करके उनसे मदद मांगनी पड़ी.

असल में हम पिछले दस साल से यह लड़ाई लड़कर परेशान हो चुके हैं. मेरी इच्छा है कि दिलीप साहब जिस घर में बरसों रहे, अल्लाह के फज़ल से उस घर को फिर से डेवेलप करके वहां उनका म्यूजियम बनवाना चाहती हूँ. जहाँ उनकी तमाम यादगार चीज़ों के साथ उनको मिले अवार्ड्स वगैरह रखे जा सकें. जिससे उनकी यादें कायम रहें. जैसे बहुत से विदेशी कलाकारों के भी म्यूजियम बने हुए हैं. मैं चाहती हूँ कि इस म्यूजियम का उदघाटन दिलीप साहब खुद अपने हाथों से करें. लेकिन बिल्डर समीर भोजवानी हमको लगातार तंग कर रहा है. जिससे हमारा यह सपना पूरा होने में दिक्कत आ रही है.

नहीं, अभी किसी ने संपर्क तो नहीं किया जब कुछ ऐसा होगा तब मैं आपको बता दूंगी. हाँ, हमको पता चला है कि पीएम ने इस बारे में सीएम को कुछ करने की हिदायत दी है. अब देखें क्या होता है. यदि जरुरी हुआ तो मैं प्रधानमंत्री से मिलने दिल्ली भी जा सकती हूँ.

आपने इस बारे में क्या अमिताभ बच्चन से बात की. वह दिलीप साहब का बहुत सम्मान करते हैं. आपके उनसे अच्छे सम्बन्ध हैं और उनके मोदी जी से. शायद वह आपकी मोदी जी से मुलाकात करा दें!

मैं खुद अमिताभ जी को कहकर उन्हें क्यों तकलीफ दूँ. जब मैं दिलीप साहब जैसी हस्ती के नाते खुद माननीय पीएम और सीएम से मिलने और मदद की मांग कर रही हूँ, गुजारिश कर रही हूँ तो मैं समझती हूँ कि उन्हें हमारी बात सुननी चाहिए.

मैं दो दिन से लगातार वकीलों के साथ बातचीत और सलाह मशवरा करके कोर्ट की क्रिसमस और नए साल की छुट्टियाँ होने से पहले कुछ आगे कदम उठाना चाहती हूँ. साथ ही अपनी फिल्म इंडस्ट्री और देश की बाकी बड़ी हस्तियों से उम्मीद करती हूँ कि उन्हें दिलीप साहब के हक़ में खुद आगे आकर सामने आना चाहिए और दिलीप साहब के हक़ में बोलना चाहिए. सरकार को हमारा साथ देना चाहिए जिससे दिलीप साहब की फतह हो, जीत हो.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!