Breaking News

स्वर कोकिला के नाम से प्रसिद्ध लता मंगेशकर को इस ख़ास उपाधि से सम्मानित करेगी मोदी सरकार

Loading...

स्वर कोकिला के नाम से प्रसिद्ध गायिका लता मंगेशकर को नरेन्द्र मोदी सरकार एक नयी उपाधि से सम्मानित करने की योजना बना रही है.  लता मंगेशकर को यह उपाधि उनके 70 दशक तक भारतीय फिल्म संगीत में उनके अभूतपूर्व सहयोग के लिए दिया जाएगा. हिंदुस्तान रत्न से सम्मानित लता मंगेशकर को ‘डॉटर ऑफ दि नेशन’ का खिताब दिया जाएगा. हिंदुस्तान सरकार उन्हें यह सम्मान

सरकार के एक सूत्र ने सूचना दी कि इस खास मौके के लिए गीतकार  कवि प्रसून जोशी ने स्पेशल सॉन्ग गीत भी लिखा है. अगुवाई करती हैं. उनका सम्मान करना देश की बेटी का सम्मान करना है इसलिए नरेन्द्र मोदी सरकार लता को 28 सितंबर को उनके 90वें जन्मदिन पर उन्हें पर ‘डॉटर ऑफ द नेशन ’ से सम्मानित करेगी. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पीएम नरेंद्र मोदी लता जी की आवाज़ के बहुत बड़े प्रशंसक हैं.

Loading...

आपको बता दें कि लता मंगेशकर आठ दशक से भी अधिक समय से हिन्दुस्तान की आवाज बनीं लता ने 30 से ज्यादा भाषाओं में हजारों फिल्मी  गैर-फिल्मी गानों में अपनी आवाज़ का जादू बिखेरा. लता ने पहली बार 1942 में मराठी फिल्म ‘किती हसाल’ के लिए गाना गाया. लता ही एकमात्र ऐसी जीवित शख्सियत हैं, जिनके नाम पर पुरस्कार दिए जाते हैं. लता का जन्म 28 सितंबर, 1929 को एक मध्यमवर्गीय मराठा परिवार में हुआ. मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में जन्मीं लता पंडित दीनानाथ मंगेशकर की बड़ी बेटी हैं. लता का पहला नाम ‘हेमा’ था, मगर जन्म के पांच वर्ष बाद माता-पिता ने इनका नाम ‘लता’ रख दिया था. लता अपने सभी भाई-बहनों में बड़ी हैं. मीना, आशा, उषा तथा हृदयनाथ उनसे छोटे हैं. उनके पिता रंगमंच के कलाकार  गायक थे.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!