Breaking News

मानसून में इन घरेलू नुस्खों से तुरंत पाएं नाक बंद से छुटकारा

 मौसम बदलने के साथ ही सर्दी-जुकाम होना आम सी बात है। नाक बंद होने के कारण सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। कई बार तो जुकाम के कारण घुटन सी भी महसुस होती है। इसके साथ ही बंद नाक के कारण सिर में दर्द भी होने लगता है। इस समस्या से निजात पाने के लिए ज्यादातर लोग दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं। मगर छोटी-छोटी समस्याओं के लिए दवाएं खाना ठीक नहीं है। बंद नाक से छुटकारा पाने के लिए घरेलू चीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Image result for मानसून में इन घरेलू नुस्खों से तुरंत पाएं नाक बंद से छुटकारा
बंद नाक को खोलने के लिए सेब के सिरके का नुस्खा बहुत कारगार है। 1 गिलास गुनगुने पानी में आधा चम्मच शहद और 2 चम्मच सेब का सिरका मिलाकर पीएं। 2 दिनों तक इस नुस्खों को मिलाकर पीने से बंद नाक खुलने लगेगा।
1 चम्मच नींबू के रस में कुछ बूंदे शहद मिलाकर रोजाना सुबह-शाम पीएं। लगातार इस मिश्रण को पीने से जुकाम दूर हो जाएगा।
नारियल तेल भी बंद नाक खोलने में किसी औषधि से कम नहीं। नारियल के तेल को उंगलियों में लगाकर नाक में डालें। मगर ध्यान रहे कि नारियल का तेल पिघला हुआ हो। आप चाहे तो नारियल तेल में कपूर डालकर भी सूंघ भी सकते हैं।
जुकाम से राहत पाने के लिए कलौंजी भी फायदेमंद है। कलौंजी के बीजों को तवे पर सेक लें। फिर इसको कपड़े में लपेट सूंघें। इसके अलावा कलौंजी और जैतून को बराबर मात्रा में मिलाकर लें सकते हैं।
जायफल से भी जुकाम से दूर किया जा सकता है। जायफल को पीस लें। फिर 1 गिलास दूध में 1 चुटकी जायफल मिलाकर पीस लें।
अदरक में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। यह शरीर के कई रोगों को दूर करने में मदद करता है। जुकाम और खांसी को ठीक करने के लिए 200 मि.ली. पानी में 10 ग्राम अदरक मिलाकर तब तक उबालें जब तक इसका एक चौथाई हिस्सा न रह जाएं। फिर इसे 1 कप चीनी वाले दूध में मिला कर सुबह-शाम सेवन करें।
हल्दी में पाए जाने वाले एंटी-बैक्टीरियल गुण जुकाम को ठीक करने के काम करते हैं। 1 गिलास दूध में 1 चम्मच हल्दी मिलाकर पीएं।
बंद नाक को खोलने में आपका खानपान भी अहम भूमिका निभाता है। यदि आप कुछ चटपटा खाने के शौकीन हैं तो गरम-गरम टमाटर सुप बनाकर पीएं। इस सूप में लहसुन, नींबू का रस और नमक मिलाकर पिएं।
Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!