Breaking News

भारत में इन-इन जगहों पे लगातार चल रहा है जिस्मफरोशी का धंधा, ऐसे होती है विदेशी लड़कियों की डीलिंग

Loading...

भारत में जिस्मफरोशी का धंधा आपने देखा होगा कि आज कल अंधाधुन होता है, मध्यप्रदेश के मंदसौर से नीमच की ओर जाने वाले हाइवे का हाल भी बहुत बुरा हैं, यहाँ आपको ऐसा नजारा देखने को मिल जाता जहा लड़कियां सरेआम जिस्म बेचने का धंधा करती है।

इन लड़कियों की बात करें तो यह बांछड़ा समुदाय की है और कम उम्र में ही इन लड़कियों को मजबूरन घरवालों की वजह से जिस्म बेचने वाले धंधे में उतार दिया जाता है।

Loading...

लड़कियों को इस काम के लिए भेजा जाना समुदाय की परंपरा माना जाता है लेकिन आज यह पूरी तरह सामाजिक बुराई बनकर सामने आया है।

जिस्म बेचने के इस गोरखधंधे में कई लड़कियां इस दलदल कीचड़ में फंसी हुई है जो कई बार जबरदस्ती भी जिस्म बेचने का काम करती है।

सेक्स के लिए आपको ये भी ध्यान रखना पड़ता है कि ये सेफ सेक्स हो. इसके लिए सभी कंडोम का इस्तेमाल करते हैं. इसके फायदे तो सुने होंगे आपने लेकिन इसका कुछ नकारात्मक पहलू भी हैं. क्या आप जानते हैं कि कंडोम के अधिक इस्तेमाल से कई साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं. यह साइड इफेक्ट्स आप की सेक्स लाइफ को बर्बाद करने के साथ आपको कई बीमारियों से भी ग्रसित कर सकते हैं. तो चलिए आप भी जान लें इसके कुछ नेगेटिव इफेक्ट्स.

– कंडोम के लगातार या सप्ताह में दो बार से अधिक इस्तेमाल करने से महिला की योनि की आतंरिक परत छिल जाती हैं. जिस से एलर्जी होने के खतरे के साथ साथ दर्द की संभावना भी बढ़ जाती हैं. इन समस्याओं के अतिरिक्त जलन और खुजली का होना आम बात हैं.

– कंडोम के अधिक उपयोग से योनि ग्रीवा में कटाव होने लगता हैं जो जल्द ही एक घाव का रूप ले लेता हैं. इस क्रिया की वजह से योनि में सूजन आजाती हैं.यदि फिर भी सेक्स करते रहे तो यह घाव बढ़ जाता हैं तथा इसमें से रक्त स्त्राव होने लगता हैं. जो खतरनाक संक्रमण फ़ैलाने का कारण बन सकता हैं.

– लेटेक्स के बने कंडोम स्त्री की योनि में होने वाली एलर्जी का प्रमुख कारण बनते हैं. इस प्रकार के कंडोम से योनि में सूखापन और खुजली जैसी समस्याएँ घर बनाने लगती हैं. इसका सब से बड़ा नुक्सान हैं महिला पुरुष के जनजांगों पर गहरे दाने हो जाना.

– महिला की योनि में स्वतः ही प्रतिरक्षा प्रणाली मौजूद रहती हैं. किन्तु कंडोम के अधिक इस्तेमाल से इस प्रतिरक्षा प्रणाली को नुकसान पहुँचता हैं.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!