Breaking News

भारत के साथ तनाव को बढ़ाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहा पाकिस्तान, अब ऐसे दे रहा युद्ध की धमकी

Loading...

भारत के साथ तनाव को बढ़ाने का कोई भी मौका पाकिस्तान नहीं छोड़ रहा है। कश्मीर में जब से विशेष दर्जा दिए जाने वाले अनुच्छेद 370 को मोदी सरकार ने जब से हटाया है, तब से पाकिस्तान कई बार भारत को युद्ध की धमकी दे चुका है। उसके कई नेता परमाणु बम के इस्तेमाल की बात भी कह चुके हैं। मगर, अब सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने शुक्रवार को भारत से युद्ध की धमकी दी है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान आखिरी गोली तक जंग लड़ेगा।

बाजवा ने दावा किया कि भारत कश्मीर में अत्याचार कर रहा है और घाटी में हिंदुत्व को थोपने की कोशिश कर रहा है। आज कश्मीर हिंदुत्व का शिकार है और वहां अत्याचार हो रहे हैं। कश्मीर पाकिस्तान का एजेंडा है। भारत सरकार का वर्तमान कदम हमारे लिए एक चुनौती है। पाकिस्तान कभी भी कश्मीरियों को अकेला नहीं छोड़ेगा। हम आखिरी सैनिक, आखिरी गोली और आखिरी सांस तक अपने कर्तव्य के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Loading...

सेना प्रमुख यहीं नहीं रुके, उन्होंने आगे कहा कि पाकिस्तानी सेना किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है। युद्ध के बादल और बेचैनी दिखाई दे रही है, लेकिन हम शांति की उम्मीद करते हैं। आज कश्मीर जल रहा है और खतरे में है। मैं कश्मीर के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम उनके साथ हैं और उन्हें नहीं छोड़ेंगे। हम कश्मीर पर किसी भी बलिदान के लिए तैयार हैं।

प्रधानमंत्री इमरान खान सहित पाकिस्तानी नेतृत्व ने परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की धमकी भी दी है और यह भी दावा किया है कि भारत के साथ युद्ध होना तय है। हालांकि, बाद में वे परमाणु खतरे से पीछे हट गए, लेकिन उन्होंने जम्मू-कश्मीर में परेशानी पैदा करने का कोई मौका नहीं छोड़ा है। जम्मू-कश्मीर के एक हिस्से पर पाकिस्तान ने अवैध रूप से कब्जा कर रखा है।

बताते चलें कि केंद्र की मोदी सरकार ने 5 अगस्त 2019 को लगभग 70 साल पुराने अस्थाई अनुच्छेद 370 को खत्म कर जम्मू-कश्मीर को दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया है। इसके बाद से पाकिस्तान कश्मीर मसले को हर उपलब्ध मंच पर जोर-शोर से उठाने की कोशिश की, लेकिन उसे बुरी तरह से मुंह की खानी पड़ी है।

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में अपने सभी लॉन्चपैड्स को सक्रिय करके पाकिस्तान, जम्मू और कश्मीर में और अधिक आतंकवादियों को भेजने की कोशिश कर रहा है। इसके साथ ही नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर 2,000 से अधिक सैनिकों को पाकिस्तान ने तैनात किया है। जनरल बाजवा की सेना, एलओसी पार करने के लिए इंतजार कर रहे आतंकी समूहों के लिए नियंत्रण रेखा पर हथियार और गोला-बारूद जमा कर रही है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!