Friday , February 26 2021 8:46
Breaking News

बजट पेश होने से पहले खरीद लें ये चीजे, होने जा रही मंहगी

अगर आप मोबाइल, फ्रिज या टीवी खरीदने की सोच रहे हैं तो इनकी खरीदारी अभी कर लीजिए। क्योंकि 1 फरवरी को बजट पेश होने के बाद इनकी कीमतों में इजाफा हो सकता है।

 

दरअसल सरकार घरेलू मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के मकसद से बाहर से मंगाए जाने वाले इलेक्ट्रानिक कंपोनेंट्स पर लगने वाले आयात शुल्क में 5 से 10 फीसदी की बढ़ोत्तरी कर सकती है। ऐसे में इलेक्ट्रानिक सामान महंगे हो सकते हैं।

देश का फर्निचर निर्यात बहुत कम करीब 1 फीसदी है। जबकि चीन और वियतनाम जैसे देशों का इस सेक्टर में निर्यात बहुत अधिक है। एक सूत्र ने बताया कि सरकार कोल तार पिच और कॉपर स्क्रैप पर भी आयात शुल्क घटा सकती है। जिससे इसकी कीमत कम हो जाएगी।

वहीं सीमा शुल्क घटने की स्थि​ति में कुछ सामान सस्ते हो सकते हैं, जबकि बढ़ने की स्थिति में कुछ वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी हो सकती है। सामानों पर आयात शुल्क में बदलाव करने से आत्मनिर्भर भारत अभियान को मदद मिलेगी और घरेलू मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा मिल सकता है।

सूत्रों के अनुसार, कट एवं पालिश्ड डायमंड, रबर गुड्स, लेदर गारमेंट, टेलिकॉम उपकरण और कारपेट जैसे 20 से अधिक सामानों पर आयात शुल्क में बदलाव हो सकता है।

जबकि कुछ रॉ मैटीयिरल जैसेकि रफ वू, स्वान वूड और हार्ड बोड पर कस्टम ड्यूटी हटाई जा सकती है। इनमें अधिकांश सामाना का इस्तेमाल फर्निचर बनाने में होता है।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी को बजट 2021 पेश करेंगी। यह उनका तीसरा बजट होगा। सूत्रों के अनुसार, सरकार आगामी बजट में फर्नीचर रॉ मैटीरियल, कॉपर स्क्रैप, कुछ रसायन, टेलिकॉम उपकरण और रबर उत्पाद समेत कुछ कुछ सामानों पर सीमा शुल्क यानी कस्टम ड्यूटी में बदलाव कर सकती है। इसका असर तैयार सामानों की कीमतों पर आने वाले महीनों में दिखाई देगा।

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Vision 4 News content is protected !!