Breaking News

फिर से हो सकती है सर्जिकल स्ट्राइक! राजनाथ सिंह ने दिया बड़ा इशारा

सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्षगांठ से एक दिन पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने एक बार फिर पाकिस्तान को चेतावनी दी है। राजनाथ सिंह ने कहा कि हमारे सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) जवान के साथ जिस तरीके की बदसलूकी की गई उसका बदला ले लिया गया और आगे देखिएगा क्या होगा। शुक्रवार को शहीद भगत सिंह के जयंती पर उत्तर प्रदेश के शुक्रताल में राजनाथ सिंह ने कहा कि दो तीन दिन पहले बहुत ही ठीक-ठाक हुआ है।

Image result for राजनाथ सिंह ने दिया बड़ा इशारा

राजनाथ सिंह ने कहा, ‘मैंने अपने बॉर्डर सिक्यॉरिटी फोर्स के जवानों को कहा था, पड़ोसी है, पहली गोली मत चलाना लेकिन एक भी गोली उधर से चल जाती है तो फिर अपनी गोलियों को मत गिनना।’

loading...

उन्होंने कहा, ‘हमारे बीएसएफ के एक जवान अभी उसके साथ जिस तरीके से बदसलूकी की है पाकिस्तान ने, शायद आपने देखा होगा। कुछ हुआ हैं, मैं बताऊंगा नहीं, हुआ है, ठीक-ठाक हुआ है, विश्वास रखना दो-तीन दिन पहले बहुत ठीक ठाक हुआ है और आगे भी देखिएगा क्या होगा?’

सीमा पर लगातार पाकिस्तान की ओर से फायरिंग और आतंकी गतिविधियों पर सीमा सुरक्षा बल लगातार कार्रवाई कर रही है। वहीं सेना प्रमुख बिपिन रावत भी कह चुके हैं पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब देने की जरूरत है।

बीते गुरुवार को भी कश्मीर घाटी में तीन अलग-अलग घटनाओं में तीन आतंकवादी मारे गए थे। वहीं सोमवार को नियंत्रण रेखा पर आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में कुल 5 आतंकवादी मारे गए थे। हालांकि इस मुठेभेड़ में एक जवान भी शहीद हो गया था।

फिर से हो सकती है सर्जिकल स्ट्राइक!

गौरतलब है कि सर्जिकल स्ट्राइक के समय सेना प्रमुख रहे जनरल (सेवानिवृत्त) दलबीर सिंह सुहाग भी कह चुके हैं कि जरूरत पड़ने पर भारतीय सेना दोबारा सर्जिकल स्ट्राइक कर सकती है और आगे जरूरत हुई तो बार-बार सर्जिकल स्ट्राइक की जाएगी।

उल्लेखनीय है कि उरी आतंकी हमले के बाद भारतीय सेना ने पाकिस्तान को करारा जबाव दिया था। सेना ने नियंत्रण रेखा के उस पार जाकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया और कई आतंकियों को मार गिराया और उनके ठिकाने भी ध्वस्त कर दिए थे।

बीएसएफ जवान का क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ था

बता दें कि बीएसएफ के हेड कांस्टेबल नरेंद्र सिंह का क्षत विक्षत शव करीब 10 दिन पहले पाकिस्तानी बलों द्वारा जम्मू के रामगढ़ सेक्टर में बिना उकसावे की गोलीबारी के घंटों बाद बरामद किया गया था।

जवान की हत्या के बाद क्रूर पाकिस्तान ने उनके शव के साथ बर्बरता की थी। शहीद BSF जवान का शव जब भारतीय सैनकों को मिला तो उनके रोंगटे खड़े हो गए थे। 51 साल के नरेंद्र सिंह को पाकिस्तानी सैनिकों ने उन्हें घंटों बुरी तरह से तड़पाया और बर्बरता की सारी हदें पार कर दी थी।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!