Breaking News

नकसीर होने पर कभी सर को न करें पीछें

गर्मी के मौसम में बडो़ की तुलना में बच्चों की नाक से खून आना आम बात मान ली जाती है क्योंकि ऐसा कई बच्चों के साथ गर्मियों के समय होता है। कुछ बच्चों की नाक से खून आना थोड़ी देर बाद बन्द हो जाता है पर कुछ बच्चों की नाक से खून बन्द नहीं होता है। अगर ब्लड आना बन्द नहीं होता है तो घबराए नहीं जानें क्या हैं इसके लक्षण और उपाय-

Image result for नकसीर होने पर कभी सर को न करें पीछें

कई बार नाक से अचानक से खून आने लगता है। बच्‍चों में यह समस्‍या अक्‍सर देखी जाती है, नाक में चोट लग जाने या बहुत गर्मी के दिनों में नाक से खून निकलना आम बात होती है, क्‍योंकि नाक के अंदर चोट या ब्लड बैसल्स ड्राई हो जाते हैं। आम तौर पर बच्चों की नाक से खून आने के मामले नुकसानरहित होते हैं और कुछ समय बाद खून बहना स्वयं बंद हो जाता है।

loading...

अधिकांश मामलों में यह समस्या बिल्कुल भी जानलेवा नहीं होती, लेकिन मां-बाप को चिंता हो ही जाती है। कई बार ऐसा होता है कि अचानक आपकी नाक से खून बहने लगता है और आप इसे लेकर बहुत घबरा जाते हैं। नाक का काम शरीर के अंदर जाने वाली हवा को फिल्टर करना होता है। नाक में खून का प्रवाह भी अधिक मात्रा में होता है। ऐसे में गर्मियों के दिनों में जब हवा रुखी होती है तब नाक की अंदरुनी पर्त के पास की रक्तवाहिनी फट जाती है जिससे नाक से खून निकलने लगता है। इसके और भी कई कारण होते हैं। साइनस संक्रमण के कारण या सर्दी-जुकाम की दवाईयों को लेने से या फिर नाक वाला स्‍प्रे इस्‍तेमाल करने से नाक वाले रास्‍ते में खुश्‍की हो जाती है जिसके कारण खून निकलने लगता है, इसमें खतरे की कोई बात नहीं होती है। लेकिन कई बार कुछ बीमारियों जैसे – ल्‍यूकेमिया, लिवर की बीमारी, हीमोफीलिया या अन्‍य आनुवांशिक क्‍लॉटिंग बीमारी होने पर भी नाक से खून निकलने लगता है। सिर में चोट आने पर भी नाक से खून निकल सकता है। जानें नाक से खून बहने पर क्या करें-

ठंडा पानी सिर पर धार बनाकर डालने से नाक से खून बहना बंद हो जाता है। नकसीर आने पर नाक की बजाय मुंह से सांस लेना चाहिए। प्याज को काटकर नाक के पास रखने और सूंघेने से नाक से खून आना बंद हो जाता है। नाक से बहने पर सिर को आगे की ओर झुकाना चाहिए। बेल के पत्तों का रस पानी में मिलाकर पीने से फायदा होता है। गर्मियों के मौसम में सेब के मुरब्बे में इलायची डालकर खाने में नकसीर बंद हो जाती है। सिर पर ठंडा पानी डालने से नाक से खून बहना बंद हो जाता है।

नाक से खून निकलने पर व्‍यक्ति को सीधा बैठ जाने को कहें। 5 से 10 मिनट यूं ही बैठाये रखें। सिर केा हिलाने न दें। न ही लेटने दें। वरना गले में खून उतरने पर सांस की नली में अवरोध हो सकता है। बर्फ का इस्‍तेमाल एकदम से नहीं करना चाहिए। सबसे पहले नाक पर मॉश्‍चराइजर या कोई क्रीम लगाएं। खून रूक जाने पर आईसक्‍यूब से सेंक लें। अपने खाने में ज्यादा से ज्यादा साइट्रस फलों का सेवन करें। साइट्रस फलों में बायोफ्लैवोनाइड्स की मात्रा काफी ज्‍यादा होती है जिसके कारण नाक से खून आने की समस्‍या दूर हो जाती है। खून बहना अगर बहुत देर तक रुकता नहीं है तो तुंरत डॉक्टर को दिखाएं क्योंकि ज्यादा खून निकल आपको कमजोरी और बेहोशी महसूस होने लगती है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!