Sunday , December 8 2019 7:55
Breaking News

जेल से बाहर आना चाहता है आसाराम

अपने ही आश्रम की नाबालिग के साथ यौन उत्पीड़न के आरोप में राजस्थान की जोधपुर सेंट्रल कारागार में सजा काट रहे आसाराम की तरफ से जिला पैरोल कमेटी के समक्ष पैरोल के लिए आवेदन किया गया है आसाराम के भांजे रमेश की तरफ इस विषय में जिला पैरोल कमेटी के समक्ष आवेदन पेश कर आसाराम के लिए बीस दिन की पैरोल मांगी हैअंतिम सांस तक की सजा के इस मामले में स्पष्ट दिशा-निर्देश के लिए कारागार प्रशासन ने मुख्यालय से मार्गदर्शन मांगा है

Image result for जेल से बाहर आना चाहता है आसाराम

अर्जी में बोला गया है कि 25 अप्रैल 2018 को आसाराम को आजीवन कारावास की सजा हो चुकी है आसाराम ट्रायल के दौरान  अब तक पांच वर्ष की सजा काट चुका है ऐसे में कारागार के पैरोल नियमों के मुताबिक, आसाराम को प्रथम पैरोल दी जा सकती है इसलिए आसाराम की प्रथम बीस दिन की पैरोल मंजूर की जाए इसके लिए सेंट्रल कारागार के जरिए जिला पैरोल कमेटी के समक्ष आवेदन किया गया है अब जिला पैरोल कमेटी तय करेगी कि आसाराम को पैरोल दी जाये या फिर नहीं

उल्लेखनीय है कि निचली न्यायालय ने इस मामले में आसाराम को दोषी करार देते हुए मृत्यु तक आजीवन कारावास की सजा से दंडित किया था आपकी जानकारी के लिए बताते चलेंइससे पहले आसाराम ने कारागार प्रशासन के जरिए भी पैरोल कमेटी में आवेदन की प्रक्रिया प्रारम्भ की थी, लेकिन कारागार मुख्यालय से इस विषय में स्पष्ट आदेश के अभाव में आसाराम का आवेदन फिल्हाल जिला पैरोल कमेटी को प्रेषित नहीं किया जा सका है उल्लेखनीय है कि हाल में आसाराम को न्यायालय से छोटी राहत मिली थी न्यायालय ने आईटी एक्ट के एक मामले में आसाराम की जमानत मंजूर की थी

आपको बता दें कि आसाराम को एससी एसटी न्यायालय के तत्कालीन पीठासीन ऑफिसर मधुसूदन शर्मा की न्यायालय ने 25 अप्रैल 2018 को यौन उत्पीड़न के आरोप में दोषी मानते हुए आसाराम को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी तब से आसाराम जोधपुर सेंट्रल कारागार में कैदी नंबर 130 के रूप में सजा काट रहा है आसाराम लगभग पांच वर्षएक महीने से जोधपुर सेंट्रल कारागार में बंद है जोधपुर पुलिस ने आसाराम को इंदौर आश्रम से 31 अगस्त 2013 को अरैस्ट कर 1 सितम्बर 2013 को जोधपुर लाई थी

Share & Get Rs.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!