Friday , February 26 2021 9:34
Breaking News

चीन में तेजी से फैल रही ये नई बीमारी , कोरोना को भी किया पीछे

यान झिचुन ने बताया कि नए स्ट्रेन्स की वजह से अफ्रीकन स्वाइन फीवर से संक्रमित सुअर मर नहीं रहे हैं। यह उस तरह का फीवर नहीं है जो साल 2018 और 2019 में चीन में फैला था।

हालांकि इसकी वजह से एक खास तरह की क्रोनिक कंडिशन पैदा हो रही है और इसकी वजह से सुअर के जो बच्चे पैदा हो रहे हैं वह कमजोर हो रहे हैं। बताया गया कि यह समस्या बिना लाइसेंस वाली वैक्सीन सुअरों को लगाने की वजह से हुई है।

आपको बता दें कि अफ्रीकन स्वाइन फीवर के नए स्ट्रेन ने चीन के सुअरों को संक्रमित किया है। वहीं नए स्ट्रेन के आने के बाद दुनिया में सबसे ज्यादा सुअर मांस विक्रेता के तौर पर पहचान रखने वाले चीन के लिए बड़े नुकसान की आशंका जताई जा रही है।

चीन के चौथी सबसे बड़े पोर्क विक्रेता कंपनी न्यू होप लिउही ने बताया कि उसके 1000 सुअरों में अफ्रीकन स्वाइन फीवर के 2 नए स्ट्रेन मिले हैं। कंपनी के चीफ साइंस ऑफिसर यान झिचुन ने बताया कि फीवर के संक्रमण की वजह से ही सुअर बेतरतीब तरीके से मोटे हो रहे हैं।

चीन में कोरोना वायरस के बीच एक नई बीमारी फैल रही है। मीडिया रिपोर्टस के अनुसार इस बीमारी से अभी तक 1000 सुअर संक्रमित हो चुके हैं। वहीं इस नई बीमारी को स्वाइन फीवर बताया जा रहा है। यह अफ्रीकन स्वाइन फीवर का नया रूप है।

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Vision 4 News content is protected !!